बिहार के 1.9 लाख विद्यार्थी दे रहे है सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षा, इन बातों का रखें विशेष ध्यान

बिहार के 1.9 लाख विद्यार्थी दे रहे है सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षा, इन बातों का रखें विशेष ध्यान

पटना. केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी सीबीएसई बोर्ड की 10वीं और 12वीं की टर्म 2 की परीक्षाएं 26 अप्रैल से शुरू हुई. टर्म 2 की परीक्षा मंगलवार से पेंटिंग और एंटरप्रेन्योरशिप जैसे वैकल्पिक पेपर के साथ शुरू हुई. इस बार बिहार में लगभग 1.05 लाख छात्र 26 अप्रैल से 24 मई तक अपने दसवीं कक्षा के पेपर लिखेंगे. वहीं लगभग 85 हजार  छात्र 26 अप्रैल से 15 जून के बीच बारहवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे. 

बोर्ड ने दसवीं और बारहवीं कक्षा की परीक्षाओं के लिए राज्य भर में 885 परीक्षा केंद्र स्थापित किए हैं, जहां सीबीएसई के साथ पंजीकृत 1.9 लाख से अधिक छात्रों के लिए ऑफ़लाइन परीक्षा आयोजित किए जाएंगे. वहीं पूरे देश में कुल 7412 परीक्षा केंद्र होंगे. वहीं विदेशों में 133 केंद्र होंगे. 10वीं और 12वीं दोनों कक्षाओं को मिलाकर देश बहार में लगभग 34 लाख बच्चे परीक्षा में शामिल होंगे. दसवीं की परीक्षा जहां 24 मई तक चलेंगी, वहीं 12वीं की 15 जून तक. 

कक्षा 10 के छात्र परीक्षा के पहले दिन पेंटिंग और कुछ भाषा के प्रश्नपत्रों के लिए उपस्थित होंगे. पहला बड़ा पेपर 27 अप्रैल को अंग्रेजी भाषा और साहित्य है. वहीं कक्षा 12 के छात्र पहले दिन एंटरप्रेन्योरशिप एंड ब्यूटी एंड वेलनेस पेपर देंगे. कक्षा 12 के छात्रों के लिए पहला बड़ा पेपर 2 मई को हिंदी का होगा. 

परीक्षा को लेकर सीबीएसई ने कहा है कि COVID-19 दिशानिर्देशों और परीक्षा केंद्र दिशानिर्देशों का पालन करें. फेस मास्क पहनें, अपना हैंड सैनिटाइजर साथ रखें. परीक्षा स्थल के अंदर कोई भी प्रतिबंधित वस्तु न लाएं. सभी परीक्षा के दिनों में अपने एडमिट कार्ड की एक प्रिंटेड कॉपी साथ रखें. टर्म 2 का सिलेबस, सैंपल पेपर और क्वेश्चन बैंक डाउनलोड करने के लिए छात्र nic.in पर जा सकते हैं.


Find Us on Facebook

Trending News