10 रुपए के स्टांप पेपर के लिए देने पड़ रहे हैं सात सौ, लूटे जा रहे हैं सेना बहाली के लिए युवा

10 रुपए के स्टांप पेपर के लिए देने पड़ रहे हैं सात सौ, लूटे जा रहे हैं सेना बहाली के लिए युवा

कटिहार। सेना बहाली के लिए आए युवाओं के शपथ पत्र भरे जाने के नाम पर लूट की जा रही है। बताया गया कि यह शपथ पत्र दस रुपए से स्टांप पेपर पर भरा जाना है, लेकिन इस स्टांप पेपर के लिए अभ्यर्थियों से पांच सौ से सात सौ रुपए वसूले जा रहे हैं। मामले में कुछ अभ्यर्थियों की शिकायत के बाद अब इसकी जांच की बात कही जा रही है। 

मामले में मिली जानकारी के अनुसार कटिहार समाहरणालय में सेना बहाली  के लिए फॉर्म भरने आए अभ्यर्थियों पिछले कई दिनों से परेशानी है और इनलोगों के परेशानी सुनकर आप भी दंग रह जाएंगे। दरअसल 5 मार्च को कटिहार में सेना बहाली को लेकर जीडी परीक्षा होना है और इसके लिए शपथ पत्र के रूप में दस रुपये का स्टांप पेपर में अभ्यर्थियों को अपने शपथ पत्र जमा करने का नियम रखा गया है। मगर कटिहार में दस रुपये का स्टैंप पेपर पिछले कई दिनों से उपलब्ध नही होने और इसके क्राइसिस का हवाला देकर दस रुपये का नॉन जुडीशियल स्टैंप पेपर पांच सौ से सात सौ में बेचा जा रहा है। 

छात्रों का आरोप है कि आपने फरियाद को लेकर  वह लोग  कई घंटे से  अधिकारियों के दफ्तर के चक्कर काट रहे हैं।  ताकि इसका कोई निदान हो सके। वहीं  रजिस्ट्री ऑफिस के वेंडरों के माने तो दस रुपये के स्टाम्प की क्राइसिस है। बताया गया कि हमारे पास सिर्फ पांच रुपए के स्टांप मौजूद हैं, जिनसे काम चलाया जा सकता है। इस दौरान वेंडरों ने बताया कि पांच सौ से सात सौ रुपये तक मांगे जाने का आरोप पूरी तरह से बेबुनियाद है। छात्रों के आरोप सही नहीं है। उन लोगों ने कहा कि अगर पांच रुपये का दो स्टैंप पेपर का परमीशन हो जाए तो आसान होता क्योंकि पांच रुपये का स्टांप उपलब्ध है।

मामले में जब संबंधित अधिकारी से बात की गई तो उन्होंने खुद को इस मामले से अंजान बताया। उनका कहना था कि ऐसी जानकारी नहीं है, अगर कोई स्टांप पेपर के नाम पर पैसों की वसूली कर रहा है तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी


Find Us on Facebook

Trending News