बिहार में 1050 सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी होंगे नियुक्त, शुरू हुई प्रक्रिया

बिहार में 1050 सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी होंगे नियुक्त, शुरू हुई प्रक्रिया

पटना. स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि प्रदेश के हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में चिकित्सकीय व्यवस्था को बेहतर बनाने को लेकर लगातार प्रयास किये जा रहे हैं. सेंटर पर डॉक्टर, नर्स और चिकित्साकर्मी की नियुक्ति और अन्य संसाधन सुदृढ़ किये जा रहे हैं. हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के लिए 1050 सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी की (सीएचओ) नियुक्ति की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है.

पांडेय ने बताया कि 25 स्वास्थ्य संस्थानों से सर्टिफिकेट इन कम्यूनिटी हेल्थ कोर्स के लिए 1050 अभ्यर्थियों का नामांकन लिया गया है. सर्टिफिकेट कोर्स में सफलता प्राप्त अभ्यर्थी सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी के तौर पर पदस्थापित होंगे. इससे पहले भी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर 1083 सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी पदस्थापित किये जा चुके हैं. पांडेय ने बताया कि सेंटर पर कालाजार, मलेरिया, ब्लड प्रेशर, हृदय रोग, ईएनटी समेत बारह तरह की बीमारियों का इलाज किया जाता है.

गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं, बच्चों और किशोरों के स्वास्थ्य की देखभाल भी की जाती है. राज्य में अतिरिक्त प्राथमिक चिकित्सा केंद्र (एपीएचसी) और स्वास्थ्य उपकेंद्र (हेल्थ सब सेंटर) को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में परिवर्तित किया जा रहा  है. राज्य में वर्तमान में 2285 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर क्रियाशील है.

पांडेय ने बताया कि राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर बनाने के साथ-साथ संसाधनों की उपलब्धता को लेकर भी स्वास्थ्य विभाग का सतत प्रयास जारी है. केंद्र सरकार से मिल रहे सहयोग के अलावे राज्य सरकार भी अपने स्तर से स्वास्थ्य संस्थानों में इंफ्रास्ट्रचर की व्यवस्था करा रही है. मानव बलों की बढ़ोतरी को लेकर भी स्वास्थ्य विभाग आवश्यक कार्रवाई कर रही है. मेडिकल कॉलेज सह अस्पतालों से लेकर पीएचसी तक डॉक्टर्स, नर्सेस और पैरा मेडिकल स्टॉफ सहित अन्य कर्मियों की संख्या बढ़ाई जा रही है.

Find Us on Facebook

Trending News