13 घंटे से अनशन पर बैठी ममता और CBI में रार बढ़ी, सुप्रीम कोर्ट जा सकते हैं दोनों

13 घंटे से अनशन पर बैठी ममता और CBI में रार बढ़ी, सुप्रीम कोर्ट जा सकते हैं दोनों

न्यूज़ 4 नेशन डेस्क : पश्चिम बंगाल में रविवार की शाम चले हाई प्रोफाइल ड्रामा के बाद देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई के 5 अफसरों को कोलकाता पुलिस ने हिरासत में ले लिया. देश की इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब सीबीआई अफसर को पुलिस ने हिरासत में लिया गया. हालांकि हिरासत में लिए गए सभी सीबीआई अफसरों को कुछ ही देर बाद रिहा कर दिया गया. 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बताया जा रहा है कि सीबीआई इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट का रुख कर सकती है. सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई अपना पक्ष रखते हुए बताएगी कि अधिकारियों की दायरे से बाहर जाकर गिरफ्तारी गई और उनसे हुई धक्का-मुक्की के आधार पर कार्य में बाधा डालने का काम किया गया. इसे लेकर पश्चिम बंगाल सरकार का तर्क है कि सीबीआई अधिकारी बिना सर्च वॉरन्ट के ही छापेमारी करने आए थे। कोर्ट में सरकार केंद्र द्वारा सीबीआई के दुरुपयोग का राजनीतिक तर्क भी दे सकती है.

बता दें कि शारदा चिट फंड घोटाले की जांच कर रही सीबीआई की टीम रविवार की शाम कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर पहुंची तो ममता सरकार की पुलिस ने सीबीआई के अधिकारियों को वहीं रोक लिया. उनके ड्राइवर को उतार कर उसे थाने ले गई और बाद में पांच अधिकारियों को भी हिरासत में ले लिया. 

राजीव कुमार को पहले भी कई बार पूछताछ के लिए सीबीआई द्वारा बुलाया जा चुका था, पर वह सीबीआई के समक्ष पेश नहीं हुए थे. इस पूरे मामले के खिलाफ राज्य की सीएम ममता बनर्जी आरोपी कमिश्नर के साथ सीबीआई की कार्रवाई के खिलाफ 13 घंटे से धरने पर बैठी हुई हैं. आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल में सोमवार को ही बजट पेश किया जाना है और ममता इस दौरान भी धरना स्थल पर डटी रह सकती हैं. अब तक मिली मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रात भर धरने पर बैठी रहीं ममता सुबह यहीं सड़क पर कैबिनेट मीटिंग बुलाएंगी।

Find Us on Facebook

Trending News