2 जनवरी को देश के सभी राज्यों में होगा कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन

2 जनवरी को देश के सभी राज्यों में होगा कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन

नई दिल्ली। नए साल में  शनिवार को देश के हर राज्य में सभी राज्यों में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन होगा। बताया जा रहा है कि इसके लिए सभी राज्यों में कुछ चुनिंदा जगहों का चयन किया गया है। सीधे शब्दों में कहा जाए तो यह टीकाकरण की पूरी प्रक्रिया की टेस्टिंग है। जिसके आधार पर टीकाकरण का काम किया जाना है। अभी तक देश के 4 राज्यों में ही ऐसा ड्राई रन किया गया था. जिसमें पंजाब, असम, गुजरात और आंध्र प्रदेश में किया गया था. चारों राज्यों में ड्राई रन को लेकर अच्छे रिजल्ट सामने आए थे, जिसके बाद अब सरकार ने पूरे देश में इस ड्राई रन को लागू करने का फैसला किया है. मामले में गुरुवार को ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI)  के डॉक्टर वीजी सोमानी ने वैक्सीन से जुड़ा अहम बयान दिया है. सोमानी ने कहा कि नए साल में हम खाली हाथ नहीं होंगे. 

ड्राई रन का मतलब ये है कि पूरे वैक्सीनेशन प्रोसेस की मॉक ड्र्रिल होगी. यानी सबकुछ वैसा ही होगा जैसा टीकाकरण अभियान में होने वाला है, सिवाय वैक्‍सीन एडमिनिस्‍ट्रेशन के. मतलब ये कि डमी वैक्‍सीन कोल्‍ड स्‍टोरेज से निकलकर वैक्‍सीनेशन सेंटर तक पहुंचेगी. साइट्स पर क्राउड मैनेजमेंट को भी टेस्‍ट किया जाएगा. वैक्‍सीन की रियल-टाइम मॉनिटरिंग को भी परखा जाएगा. स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार, ड्राई रन में राज्यों को अपने दो शहरों को चिन्हित करना होगा. इन दो शहरों में वैक्सीन के शहर में पहुंचने, अस्पताल तक जाने, लोगों को बुलाने, फिर डोज देने की पूरी प्रक्रिया का पालन इस तरह किया जाएगा, जैसे वैक्सीनेशन हो रहा हो.

83 करोड़ सीरींज की हो चुकी है खरीदी

देश के 130 करोड़ की आबादी को कोरोना टीकाकरण के लिए केंद्र सरकार काफी वृहद तैयारी कर रही है। जानकारी के अनुसार सरकार अब तक 83 करोड़ सीरींज की खरीदी कर चुकी है. जो टीकाकरण में इस्तेमाल किया जाएगा। इसके अलावा लगभग 35 करोड़ सीरींज के प्री-ऑर्डर किया गया है। माना जा रहा है कि यह विश्व का सबसे बड़ा अभियान होगा, जब सवा सौ करोड़ लोगों को कोरोना का टीका लगेगा। 

2021 का मंत्र होगा ‘दवाई भी, कड़ाई भी’  

कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी देश को नया मंत्र दिया है। उन्होंने कहा कि 2020 का मंत्र था कि जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं। अब 2021 का मंत्र होगा ‘दवाई भी, कड़ाई भी’। राजकोट में एम्स की आधारशिला रखने के दौरान पीएम ने अपने संबोधन में देश में कोरोना मामलों में कमी आई है, लेकिन अब भी किसी भी प्रकार की लापरवाही बरतने की आवश्यकता नहीं है। 

Find Us on Facebook

Trending News