अभी चुनाव हुए तो बिहार में एनडीए को 40 में से 35 और महागठबंधन को सिर्फ 5 सीटें मिलने के आसार

अभी चुनाव हुए तो बिहार में एनडीए को 40 में से 35 और महागठबंधन को सिर्फ 5 सीटें मिलने के आसार

PATNA : नीतीश कुमार की वापसी से बिहार में एनडीए बेहद मजबूत हुआ है। बिहार में अभी लोकसभा चुनाव हों तो एनडीए जनता की पहली पसंद हो सकता है। यह बात गुरुवार को सी वोटर के एक सर्वे में सामने आई। सर्वे के मुताबिक  सूबे की कुल 40 लोकसभा सीटों में 35 एनडीए के खाते में जा सकती हैं, जबकि महज पांच सीटें महागठबंधन के हिस्से जाने के आसार हैं। जिसमे आरजेडी को सिर्फ 4 सीटें और कांग्रेस को 1 सीट मिल सकती है।

बता दें बिहार में मुकाबला एनडीए और यूपीए यानी महागठबंधन के बीच है। एनडीए में बीजेपी, जेडीयू और एलजेपी तो वहीं महागठबंधन में आरजेडी, कांग्रेस, हम, एलजेडी, आरएलएसपी और वीआईपी शामिल हैं।

एनडीए को मिलने वाली 35 सीटों में से 20 सीटें नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले जेडीयू और राम विलास पासवान की एलजेपी को संयुक्त रूप से मिल सकती हैं। मौजूदा समय में ये दोनों दल ही राज्य में बीजेपी की सहयोगी पार्टियां हैं। वहीं  शेष 15 सीटें बीजेपी की झोली में जाने की संभावना है। बता दें कि बिहार में जेडीयू और बीजेपी 17-17 सीटों पर तो एलजेपी 6 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

दूसरी ओर सर्वे के अनुसार  यूपीए को मिलने वाली पांच सीटों में चार सीटें आरजेडी को मिल सकती हैं, जबकि एक सीट कांग्रेस के खाते में जा सकती है। 

बता दें कि 2014 के चुनाव में कुशवाहा एनडीए में थे और तब इसे 31 सीटें मिली थीं। इसमें बीजेपी को 22, एलजेपी को छह व आरएलएसपी को तीन सीटें मिली थीं, जबकि हालिया सर्वे के अनुसार, 2019 के चुनाव में कुशवाहा के जाने के बाद भी एनडीए के पास 35 सीटें आने की उम्मीद जताई जा रही है।

2014 में जेडीयू एनडीए का हिस्सा नहीं थी और उसने दो सीटों पर जीत दर्ज की थी। वहीं आरजेडी ने चार, कांग्रेस ने दो और एनसीपी ने एक सीट जीती थी।


Find Us on Facebook

Trending News