बिहार के 23 'सब रजिस्ट्रार' को काली पट्टी लगाकार मीटिंग में शामिल होना पड़ा महंगा....निबंधन विभाग ने दी ये सजा

बिहार के 23 'सब रजिस्ट्रार' को काली पट्टी लगाकार मीटिंग में शामिल होना पड़ा महंगा....निबंधन विभाग ने दी ये सजा

PATNA: बिहार के 23 अवर निबंधकों को काली पट्टी बांधकर विभाग की मीटिंग में शामिल होना महंगा पड़ गया.ये सभी अवर निबंधक निबंधन विभाग के एक निर्णय के विरोध में काली पट्टी लगाकर विरोध दर्ज कर रहे थे।  26 अक्टूबर को विभाग की वीसी के माध्यम से आयोजित मीटिंग में काली पट्टी बांधकर उपस्थित हुए थे. इसे देखकर विभाग के अपर मुख्य सचिव ने कार्रवाई के आदेश दिये थे। विभाग ने काली पट्टी लगाकर मीटिंग में शामिल होने को अमर्यादित कृत्य बताया है। इसके बाद एक साथ सभी 23 अधिकारियों को दंड दिया गया है। 

निबंधन विभाग ने कृत्य को माना गलत 

मद्ध निषेध उत्पाद एवं निबंधन विभाग ने अपने अधिकारियों के इस कृत्य को आपत्तिजनक बताया है . साथ ही बिहार सरकारी सेवक आचरण नियमावली का उल्लंघन भी कहा है । जब इन अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा तो अपने जवाब में इन लोगों ने उल्लेख किया कि विभागीय काली पट्टी लगाना किसी भी प्रकार से नियमावली का उल्लंघन नहीं है.इसके बाद निबंधन विभाग ने इन सभी को निंदन का दंड लगाया है. विभाग की अधिसूचना में कहा गया है कि किसी विषय को लेकर हड़ताल या विरोध करना गलत है। अधिकारियों को अगर कोई निर्णय से आपत्ति थी तो  विभाग में लिखित ज्ञापन अथवा पक्ष रखना चाहिए था. लेकिन इन लोगों ने ऐसा नहीं किया और अमर्यादित तरीके से रोष प्रकट करने के लिए काली पट्टी बांधकर विभागीय बैठक में उपस्थित हुए. राजपत्रित अधिकारियों से आशा की जाती है कि वह अनुशासन में रहते हुए काम करेंगे. बिना उचित कारण के सरकारी बैठक में काली पट्टी लगाकर शामिल होना सरकारी सेवक आचरण नियमावली का उल्लंघन है. ऐसे में इन अवर निबंधकों को वर्ष 2022-23 के लिए निंदन का दंड आरोपित किया जाता है. यदि पूर्व में कोई दंड हो तो यह दंड उसके बाद प्रभावी होगा.


इन अधिकारियों को मिला दंड 

जिन अवर निबंधकों को निंदन का दंड दिया गया है उनमें मंझौल के अवर निबंधक अभिषेक कुमार, लौरिया के अवर निबंधक केशवराज, रक्सौल के अवर निबंधक संतोष कुमार, शिकारपुर के अवर निबंधक अमित कुमार, पटना के जिला अवर निबंधक धनंजय कुमार राव हैं. इसके अलावे बिरौल के अवर निबंधक भास्कर ज्योति, सिमरी बख्तियारपुर के अवर निबंधक आशीष कुमार सिंह, फुलवरिया के अवर निबंधक काली आशीष, औरंगाबाद के जिला अवर निबंधक रवि रंजन, खजौली के अवर निबंधक ओंकार, नवादा के जिला अवर निबंधक निलेश कुमार, दाउदनगर के अवर निबंधक श्रीमती जया, कहलगांव के अवर निबंधक तुषार, तेघड़ा के अवर निबंधक मुकेश कुमार, ढेंग के अवर निबंधक नीरज कुमार नंबर दो, कमतौल के अवर निबंधक अंबुज कुमार कुणाल, अरेराज के अवर निबंधक योगेश त्रिपाठी, परिहार के अवर निबंधक विकास कुमार, हल्सी के अवर निबंधक विशाल सौरव, बलिया के अवर निबंधक शादाब आजम, जहानाबाद के जिला अवर निबंधक रीवा चौधरी, नालंदा के जिला अवर निबंधक पंकज कुमार झा और भागलपुर के जिला अवर निबंधक पंकज कुमार बसाक शामिल हैं.

Find Us on Facebook

Trending News