गोल इन्स्टीट्यूट के 23 साल पूरे, दस हज़ार 10,000 पर्यावरण मित्र बनाने के साथ लगाये गए दस हज़ार पेड़

गोल इन्स्टीट्यूट के 23 साल पूरे, दस हज़ार 10,000 पर्यावरण मित्र बनाने के साथ लगाये गए दस हज़ार पेड़

PATNA : मेडिकल और इंजिनियरिंग के लिए छात्रों को तैयारी कराने वाली बिहार एवं झारखंड की अग्रणी संस्थान गोल इन्सटीट्यूट ने 10,000 पर्यावरण मित्रों के साथ 10,000 वृक्ष लगाकर अपना 23वां फाउण्डेशन दिवस सेलिब्रेट किया. गोल इन्सटीट्यूट के सभी ब्राँच में आज केक काटकर और वृक्षारोपण के साथ स्थापना दिवस को अनोखे तरीके से मनाया गया.

गोल इन्सटीट्यूट के फाउण्डर एवं मैनेजिंग डायरेक्टर बिपीन सिंह ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि 2019-20 के सत्र में गोल इन्सटीट्यूट ने 10,000 एडमिशन के ग्राफ को पार कर लिया है, जो इस बात का परिचायक है कि बिहार एवं झारखंड के छात्रों एवं अभिभावकों का गोल इन्सटीट्यूट पर अटूट विश्वास है. आज गोल इन्सटीट्यूट मेडिकल एवं इंजिनियरिंग की तैयारी कर रहे छात्रों की पहली पसंद बन चुका है.

सिंह ने कहा कि 10,000 एडमिशन ग्राफ को पार करने के उपलक्ष्य में हमारे संस्थान ने सामाजिक जिम्मेदारियों के तहत आज फाउण्डेशन दिवस पर 10,000 वृक्ष लगाए. साथ ही 10,000 पर्यावरण मित्र बनाए जो सदैव पर्यावरण को बचाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे. आज पर्यावरण का बचाव एक बड़ी चुनौती बन चुका है. हम सब की यह जिम्मेवारी है कि अपने कार्यक्षेत्र के अलावा इस गंभीर मसले पर भी अपना ध्यान दें. हम सब अधिक से अधिक वृक्ष लगाएं और साथ ही लोगों को पर्यावरण के बचाव के लिए जागरूक बनाएं.

वहीँ सिंह ने कहा कि गोल इन्सटीट्यूट के 23 वर्षों के महत्वपूर्ण सफर में हमें छात्रों अभिभावकों एवं हमारी सशक्त टीम का भरपूर सहयोग मिला है. हमें आशा है कि भविष्य में इस तरह के सहयोग मिलने के कारण हमारी टीम और अधिक छात्रों को अपनी सेवा प्रदान करेगा. हमारी टीम क्वालिटी एजुकेशन के साथ-साथ छात्रों को अन्य महत्वपूर्ण सुविधएं प्रदान करेगा. फाउण्डेशन दिवस के उपलक्ष्य पर एक महत्वपूर्ण घोषणा करते हुए सिंह ने कहा कि हमारी इन्सटीट्यूट किसी भी दिव्यांग छात्रा को सभी सुविधओं के साथ बिल्कूल मुफ्रत शिक्षा प्रदान करेगा.



Find Us on Facebook

Trending News