मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ड्रीम प्रोजेक्ट हुआ धराशायी, 24 घंटे में 18 लाख की टंकी हो गई जमींदोज

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ड्रीम प्रोजेक्ट हुआ धराशायी, 24 घंटे में 18 लाख की टंकी हो गई जमींदोज

नालंदा। सीएम नीतीश कुमार के ड्रीम प्रोजेक्ट हर घर नल का जल योजना में चल रहे भ्रष्टाचार की सच्चाई फिर से सामने आ गई है।  जिले के सिलाव प्रखंड के पाकी गॉव में सात निश्चय योजना से बनायी गई पानी टंकी टावर सहित 24 घंटे के अंदर जमींदोज हो गया। बताया गया कि निर्माण कार्य के सारे पैसों का भुगतान भी कर दिया गया है। अब टंकी गिरने के बाद अधिकारी जांच और दोषियों पर कार्रवाई करने की बात कर रहे हैं।

 स्थानीय लोगों की माने तो इस पानी टंकी का निर्माण काफी दिनों से कराया जा रहा था।  सोमवार को इसके ऊपर पानी का टंकी रखा गया और सुबह में जैसे ही इस में पानी भरना शुरू किया तो अचानक टंकी समेत टावर टूट कर गिर गया।  जिससे आसपास के लोगों में हड़कंप मच गया। इस मामले में पंचायत के मुखिया कांति देवी ने बताया कि हमारे द्वारा राशि की भुगतान कर दिया गया है। लोगों का कहना है कि निर्माण को लेकर शुरू से ही यहां के ठेकेदार और अधिकारी लापरवाही बरत रहे थे। लोगों की मांग है पैसों का बंदरबांट करनेवाले दोषियों से वसूली कर इसका दोबारा निर्माण कराया जाए।

18 लाख की पानी टंकी 

उन्होंने बताया कि वार्ड संख्या 11 में 18 लाख की लागत से नल जल योजना काम कराया जा रहा था।  मगर काम में अनियमितता बरती गई जिसके कारण यह हादसा हुआ। उन्होंने सीधे-सीधे वार्ड सदस्य वार्ड सचिव पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है इस मामले में सिलाव के प्रखंड विकास पदाधिकारी  डॉक्टर अंजनी कुमार ने कहा कि मामले की जांच की जाएगी। जो भी दोषी होगें उनपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।



Find Us on Facebook

Trending News