इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन पाइपलाइन्स वर्कर्स यूनियन का 36 वां सम्मेलन, राजकिशोर सिंह अध्यक्ष व मुकेश कुमार महामंत्री निर्वाचित

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन पाइपलाइन्स वर्कर्स यूनियन का 36 वां सम्मेलन, राजकिशोर सिंह अध्यक्ष व मुकेश कुमार महामंत्री निर्वाचित

DESK: इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन पाइपलाइंस वर्कर्स यूनियन का 36 वां  सम्मेलन संपन्न हो गया। प्रयागराज में पदाधिकारियों के चुनाव के साथ 36 वां सम्मेलन समाप्त हो गया। राजकिशोर सिंह को केंद्रीय अध्यक्ष एवं मुकेश कुमार महामंत्री निर्वाचित हुए। 

यूनियन के अध्यक्ष कॉ राजकिशोर सिंह की अध्यक्षता में जसीडीह, झारखंड से आरंभ होकर बिहार एवं उत्तर प्रदेश के सभी लोकेशनों से होते हुए प्रयागराज में पदाधिकारियों के चुनाव के साथ देर रात सम्मेलन समाप्त हुआ. सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए पूर्व विधायक एवं मजदूरों के नेता अनुग्रह नारायण सिंह ने केंद्र सरकार के मजदूर विरोधी नीतियों का जम कर विरोध किया एवं मजदूरों से एकजूट होकर आंदोलन के लिए तैयार रहने का आह्वान किया . उन्होंने कहा कि सहयोग व समर्थन हमेशा मजदूरों के साथ रहा है और आगे भी रहेगा.साथ ही आपकी यूनियन को जब भी हमारी जरूरत होगी आप हमे अपने साथ मजबूती से खड़ा पाएंगे.

एटक के उत्तर प्रदेश, उपाध्यक्ष कामरेड नसीम अंसारी ने भी केंद्र सरकार की आर्थिक औद्योगिक और विनिवेश की नीति को आड़े हाथों लिया और कहा कि यह सरकार केवल और केवल मजदूरों के खिलाफ षड्यंत्र कर रही है और देश में बेरोजगारी पैदा कर रही है. इस अवसर पर उत्तर प्रदेश बिजली यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष कॉ जवाहर लाल विश्वकर्मा ने भी मजदूरों से एकता बनाए रखने की अपील की और भविष्य में आंदोलन के लिए तैयार रहने के लिए कहा.जिला मंत्री कॉ रामसागर ने भी केंद्र सरकार के द्वारा की जा रही मोनेटाइजेशन के फैसलों का विरोध किया. इस अवसर पर एजी ऑफिस के प्रदेश अध्यक्ष कॉ सुभाष चन्द्र पाण्डे ने भी संबोधित किया. इस मौके पर इंडियन ऑयल यूपी के मानव संसाधन प्रबंधक विनय कुमार, मुख्य प्रचालन प्रबंधक ऋषि आनंद एवं वरिष्ठ प्रचालन प्रबंधक अनंत कुमार पाण्डे भी उपस्थित थे.  पेट्रोलियम वर्कर्स यूनियन के दिनेश कुमार दुबे, सुबोध केसरवानी, अशोक श्रीवास्तव, भोलानाथ एवं अमित कुमार यादव ने भी संबोधित किया |

सभापतित्व कर रहे यूनियन के अध्यक्ष कामरेड राजकिशोर सिंह ने भी केंद्र सरकार एवं प्रबंधन के मजदूर विरोधी नीतियों का पुरजोर ढंग से आलोचना किया. उन्होंने कहा कि आगे आने वाली चुनौतियों का मुकाबला हम सब एक होकर ही कर सकते हैं. उन्होंने केंद्र सरकार के मोनेटाइजेशन नीति का भी विरोध किया तथा सभी साथियों से आह्वान किया कि अपनी एकजुटता बनाए रखें. 

चुनाव के बाद चयनित पदाधिकारियों की घोषणा चुनाव अधिकारी सौरव आनंद ने किया।अमरजीत कौर मुख्य संरक्षक , मोहन लाल व मणिबाबू संरक्षक , राजकिशोर सिंह अध्यक्ष, कृष्ण मुरारी कुमार व सत्यप्रकाश सह – सभापति, मुकेश कुमार महामंत्री , रवीश कुमार व धनंजय कुमार उप महामंत्री , जीतेंद्र कुमार कोषाध्यक्ष एवं बैद्यनाथ कुमार संगठन मंत्री निर्वाचित हुए.

उप सभापति के रूप में बरौनी से रवीन्द्र प्रसाद , मृत्युंजय कुमार ,राजेश कुमार, पटना से देवेन्द्र शर्मा , मुगलसराय से विकास कुमार, प्रयागराज से अमरनाथ ,कानपुर से जागरूप ,लखनऊ से अजित कुमार ,जसीडीह से दिनेश कुमार यादव , बैतालपुर से संजय सिंह और मोतिहारी से नितीश कुमार निर्वाचित हुए.

मंत्री के रूप में बरौनी से प्रवीण शुक्ला , सुनील कुमार ,अरविंद कुमार राय , पटना से दुर्गेश कुमार , मुगलसराय से रोहित कुमार सिंह, प्रयागराज से नरेंद्र सिंह ,कानपुर से कृष्णकांत झा ,लखनऊ से आलोक कुमार शुक्ला ,जसीडीह से भुवनेश्वर रजक  , बैतालपुर से महेंद्र कुमार और मोतीहारी से नितीश कुमार नीतीश निर्वाचित हुए.सह - कोषाध्यक्ष  के रूप में बरौनी से परमानंद कुमार, पटना से शिवकुमार प्रसाद ,मुगलसराय से प्रवीण कुमार सिंह ,कानपुर से आलोक कुमार निर्वाचित हुए.   

Find Us on Facebook

Trending News