चार साल बाद फिर से जिंदा हो गई पत्नी, दहेज हत्या का आरोप झेल रहा पति भी सामने देखकर हो गया हैरान

चार साल बाद फिर से जिंदा हो गई पत्नी, दहेज हत्या का आरोप झेल रहा पति भी सामने देखकर हो गया हैरान

सासाराम। चार साल पहले जिस पत्नी की मौत हो गई थी, वह फिर से जिंदा हो गई और अचानक अपने पति के घर पहुंच गई। पत्नी को मृत मानकर दूसरी शादी कर चुका पति के सामने महिला पहुंची तो पति भी हैरान रह गया. अब पति के सामने अजीब समस्या उत्पन्न हो गई है।

मामला रोहतास जिले के करगहर पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत करगहर गाँव के वार्ड नंबर 7 की है, जहां रहनेवाले खालिद अंसारी का निकाह 2010 में सासाराम के मुफस्सिल थाना अंतर्गत मुरादाबाद गाँव के एक अशरफ़ अली की बेटी रुखसाना से हुई थी। चार साल पहले पहले तीन बच्चों को छोड़कर रुखासाना अपने एक बेटे को लेकर गायब हो गई। इन चार वर्षों में वह न ससुराल और न ही मायके वाले परिवार से मिली। रुखसाना के गायब होने को लेकर उसके मायकेवालों ने खालिद और उसके परिवार पर दहेज हत्या का आरोप लगा दिया। 

परिवार को झेलनी पड़ी परेशानी

 मामले में पति खालिद अंसारी, उनके बड़े भाइयों गफ्फार अंसारी और सत्तार अंसारी, मां जुबेदा खातून, बहन शकीला खातून के साथ उसके पति मुन्ना अंसारी सहित 10 लोगों पर केस दर्ज किया । इस मामले में रिश्तेदारों के लिए इस गरीब परिवार को जमानत दिलाने और मुकदमा लड़ने में बहुत परेशानी उठानी पड़ी। यह केस अभी तक सासाराम की अदालत में लंबित है। इस मामले में सासाराम पुलिस अधीक्षक आशीष भारती ने कहा कि पुलिस ने दहेज प्रताड़ना, पत्नी के जीवन काल में दूसरी शादी और आईपीसी की धारा 498 ए, 494 और 34 के तहत सामान्य इरादे के लिए आरोप-पत्र प्रस्तुत किया था। यह दहेज हत्या का मामला नहीं था। लिहाजा उन्हें जमानत मिल गई।  इन चार सालों में रुखसाना को मृत मानकर खालिद ने दूसरा निकाह कर लिया और खुशमय जीवन बिताने लगा। 

अचानक आ गया भूचाल

चार साल बाद खालिद की जिंदगी में फिर भूचाल आ गया। जिस पत्नी को मृत मान लिया गया था वह अचानक घर पहुंच गई  30 साल की रुखसाना खातून चार साल के बाद  पति के घर रविवार की शाम को पहुंची। 2017 में तीन बच्चों को छोड़कर अपने पांच साल के बेटे के साथ गायब हुई महिला मृत रुखसाना के जिंदा होने और उसके लौट आने की खबर पूरे गांव में धीरे-धीरे फैल गई और लोग उसे देखने उसके पति के घर पर जमा हो गए।

साथ में नहीं था बेटा, ससुराल वालों ने घर में नहीं दी जगह

 हालांकि इस बीच रुखसाना के साथ गायब बेटा उसके साथ नहीं था। ग्रामीणों और ससुरालवालों ने काफी पूछताछ की लेकिन उसने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया। इस दौरान पति और ससुराल वालों ने उसे घर में रखने से इनकार कर दिया वहीं पिता के घर लौटने के बाद काफी मुश्किलों को झेलना पड़ा। पति के बड़े भाई गफ्फार अंसारी ने ये कहते हुए रुखसाना को घर में रखने से इंकार कर दिया कि- हमें उसकी वजह जेल जाना पड़ा और बहुत तकलीफ हुई और वह उसे किसी और मामले में फंसने के लिए घर में नहीं रख सकते। हमें न्यायपालिका पर भरोसा है और अब न्याय मिलेगा। 


Find Us on Facebook

Trending News