गया ओटीए से पास आउट 84 कैडेट्स बने सेना में अधिकारी, देश की करेंगे सेवा

गया ओटीए से पास आउट 84 कैडेट्स बने सेना में अधिकारी, देश की करेंगे सेवा

GAYA : ऑफिसर ट्रेनिंग एकेडमी (ओटीए) में शनिवार को 15वीं पासिंग आउट परेड का आयोजन किया गया। इस ऐतिहासिक मौक़े पर कुल 84 कैडेट्स ने अधिकारियों के रूप में सेना मे कॉमिशन प्राप्त किया। जिसमे टेक्निकल एंट्री स्किम कोर्स (टीईएस-33) के 66 कैडेट व स्पेशल कमीशन ऑफिसर (एससीओ-42) के 18  जेंटलमैन कैडेट्स कमीशन प्राप्त किया।

पासिंग आउट परेड के निरीक्षण अधिकारी सह मुख्य अतिथि के रूप में लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरावने, पी वी एस एम, एवी एस एम, एस एम, जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ पूर्वी कमान शामिल हुए।

निरीक्षण अधिकारी का आगमन सेना के शानदार बग्घी से हुआ। उनका स्वागत लेफ्टिनेंट जनरल गया ओटीए के कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल सुनील श्रीवास्तव वीएसएम एवं बार, कमान्डेंट के द्वारा किया गया। अधिकारियों को मार्च पास्ट करते हुए सलामी दी गई।

वहीं इस मौके पर प्रशिक्षण के दौरान बेहतर प्रदर्शन करने वाले कैडेट्स को पुरस्कृत किया। टीईएस– 33 कोर्स में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले विंग कैडेट कैप्टन कुलविंदर सिंह को सोर्ड ऑफ ऑनर प्रदान कर सम्मानित किया गया। साथ ही गोल्ड मेडलिस्ट से भी नवाजा गया। विंग कैडेट कैप्टन चंदन कुमार को रजत तथा विंग कैडेट क्वार्टर मास्टर नीरज कुमार को कांस्य पदक से सम्मानित किया गया। एस सी ओ कोर्स में सभी क्षेत्रों में बेहतर प्रदर्शन करने वाले जेंटलमैन कैडेट्स एकेडमी कैडेट एडजुटेंट अनिल कुमार को रजत पदक से सम्मानित किया गया। वहीं प्रदर्शन काल में सभी क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन करने वाले पर प्रशिक्षु कंपनी,  गुरैस कंपनी को प्रतिष्ठित 'चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ' बैनर प्रदान किया गया।

परेड को संबोधित करते हुए जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ के पूर्व कमान लेफ्टिनेंट जनरल स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरावने ने जेंटलमैन कैडेट्स को उनके बेहतरीन ड्रिल प्रदर्शन के लिए बधाई दी। उन्होंने उनके उज्वल भविष्य की मंगलकामना करते हुए कहा कि आपका भविष्य निःस्वार्थ और सेवाभा से भरा हो। आप जीवन मे बुलंदियों को छुए। 


परेड का समापन कैडेट्स के द्वारा अंतिम पग पर कदम रख कर किया गया। मुख्य अतिथि और सम्मानित अधिकारियों की उपस्थिति में शपथ ग्रहण कराया गया। सामान्य कैडेट्स से आज अधिकारी बने जवानों के कंधे पर उनके अभिभावक के द्वारा रैंक लगाया गया। इस दैरान सभी अभिभावक भावुक हो उठे।

गया से जयप्रकाश की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News