संतोष झा हत्याकांड में बड़ा खुलासा, मुकेश पाठक के इशारे पर हुई थी हत्या

संतोष झा हत्याकांड में बड़ा खुलासा, मुकेश पाठक के इशारे पर हुई थी हत्या

SITAMARHI : कोर्ट परिसर में पेशी के दौरान कुख्यात संतोष झा हत्याकांड में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। संतोष की हत्या जेल में बंद मुकेश पाठक और अश्विनी दुबे उर्फ गोलू एवं संजीत कुमार उर्फ़ राज के इशारे पर की गयी थी। इस बात की जानकारी सीतामढ़ी एसपी विकास वर्मन ने दी है। 

मुकेश पाठक ने रची थी साजिश

एसपी ने बताया की मुकेश पाठक के कहने पर मोतिहारी जेल में बंद कुख्यात संजय कुमार उर्फ राज द्वारा फोन कर शकील अख्तर उर्फ़ आर्यन को बाहर निकालने के लिए संजीत चौधरी व अश्विनी दुबे उर्फ गोलू कहा गया. वही आर्यन को निकालने में खर्च का पैसा चकिया निवासी प्रिंस के माध्यम से पैसा दिया गया था। जिसको मोतिहारी पुलिस के सहयोग से सीतामढ़ी पुलिस ने प्रिंस को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। 

घटना से एक दिन पहले ही कोर्ट परिसर में छुपाया गया था आर्म्स

वर्मन ने बताया कि पूर्व में घटनास्थल से ही गिरफ्तार अपराधीकर्मी विकास महतो ने पूछताछ में बताया कि विकास और आशीष रंजन कृष्णापुरी में अधिवक्ता मुनेश कुमार के मकान में किराया लेकर रहते था। वही बताया की 27 मार्च  को शकील अख्तर उर्फ आर्यन उसके डेरा पर अपने साथ दो अन्य साथियों को लेकर आया, फिर वह दोनों उसी दिन रात को डुमरा कोर्ट में जाकर हथियार पॉलिथीन में रखकर छिपा दिया। वही अगले दिन उक्त लोग गलत तरीके से पास बनवाकर कोर्ट में विकास और डेविल उर्फ़ आशीष रंजन प्रवेश कर गया। वही बाहर में शकील अख्तर उर्फ़ आर्यन के साथ दो अन्य सहकर्मी बाइक लगाकर खड़ा था। 

संतोष के जेल से कोर्ट आने की पल-पल की शूटरों को मिल रही थी जानकारी

उन्होंने बताया कि पूछताछ में विकास ने बताया की डेविल के मोबाईल पर किसी का फोन आया की संतोष झा की गाड़ी जेल से बाहर निकल गया है। उसके बाद डेविल और विकास छुपाया हुआ हथियार अपने पास रख लिया, और अपने बनाए हुए योजना के अनुसार दोनों संतोष झा के अदालत से बाहर आते ही कोर्ट परिसर में गोलियों से भून दिया। वही डेविल चालाकी से हवाई फायरिंग करते हुए भाग गया व विकास कुमार घटनास्थल पर तैनात पुलिसकर्मियों के द्वारा पकड़ लिया। 

एसपी ने बताया कि घटना में शामिल सभी अपराधकर्मियों की गिरफ्तारी को लेकर एक विशेष टीम का गठन किया गया। विशेष टीम के सदस्यों द्वारा स्थानीय थाना के सहयोग से मोतिहारी चकिया निवासी शकील अख्तर उर्फ़ आर्यन के घर पर छापेमारी कर उसके भाई नवीन अख्तर को गिरफ्तार किया। नवीन से जब कड़ाई से पूछताछ की गई तो सारे घटनाक्रम का पता चला। 

सीतामढ़ी से आदित्यानंद आर्या की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News