बिहार के एक थानेदार ने पेश की मानवता की मिशाल,पटना से पैदल कटिहार लौट रहे लोगों के लिये बना फरिश्ता

बिहार के एक थानेदार ने पेश की मानवता की मिशाल,पटना से पैदल कटिहार लौट रहे लोगों के लिये बना फरिश्ता

DESK : कोरोना वायरस के संक्रमण से देश और दुनिया के साथ ही साथ बिहार भी त्राहिमाम कर रहा है . सरकार से लेकर समाज तक कोरोना  को लेकर सतर्क भी है और संवेदनशील भी. बिहार सरकार ने तमाम अधिकारियों को कोरोना से लड़ाई में उतार दिया है.

वहीं सामाजिक तौर पर कुछ लोग आगे आ रहे हैं . यहां एक थानेदार ने ना केवल मानवता की मिसाल पेश की बल्कि फरिश्ते की भांति ऐसे जरूरतमंद लोगों की मदद भी की .थानेदार ने भूखे-प्यासे लोगों को पहले किया सैनिटाइज और  फिर खिलाया खाना.बता दे कि पूरा देश लॉकडाउन हो चुका है .इस स्थिति में मजदूरों के सामने सबसे बड़ा संकट है रोजगार का .

वही लॉकडाउन की वजह से ट्रेन से लेकर बस तक बंद है इस स्थिति में कटिहार के मजदूरों ने पटना से पैदल घर जाने का मन बना लिया. लेकिन ना तो उनके पास पीने का पानी था और ना खाने को कुछ सामान. इसी दौरान बाढ़ एनएच-31 पर ड्यूटी में खड़े एनटीपीसी थाना के थानेदार अमरदीप ने लोगों को पैदल जाते देखा तो उनसे हालचाल पूछने के दौरान पता चला कि यह मजदूर अपने घर पटना से कटिहार की तरफ पैदल जा रहे हैं .

थानेदार का दिल पसीज है फिर उन्होंने सबको सैनिटाइज करवाया चाय पिलाया और खाना भी खिलाया .खगड़िया और कटिहार के लिए पैदल निकले राहगीरों के लिए मानवता की मिसाल पेश करने की तस्वीर  बाढ़ की है.जहां एनटीपीसी थाना के थानेदार ने राहगीरों की किसी फरिश्ते की भांति मदद की. एनटीपीसी के थानेदार ने पहले छह राहगीरों जो कि पैदल ही अपने घर को जा रहे थे को सैनिटाइज किया फिर सभी को  खाना भी दिया. 


Find Us on Facebook

Trending News