NATIONAL DOCTOR’S DAY पर पटना AIIMS का खास तोहफा, 2 से 6 साल के बच्चों को दी गई वैक्सीन की पहली डोज

NATIONAL DOCTOR’S DAY पर पटना AIIMS का खास तोहफा, 2 से 6 साल के बच्चों को दी गई वैक्सीन की पहली डोज

PATNA: देश कोरोना महामारी की दूसरी लहर से जल्द ही बाहर निकलने के प्रयास में है। इसी संबंध में देश में युद्ध स्तर पर कोरोना टीकाकरण का कार्य जारी है। वहीं दूसरी तरफ देशभर के चुनिंदा एम्स में 18 साल के कम उम्र के बच्चों पर कोरोना टीके का ट्रायल भी जारी है। इसी कड़ी में राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस पर पटना एम्स में आज 2 से 6 साल के बच्चों पर भी कोरोना टीके का ट्रायल किया गया।

राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के मौके पर पटना एम्स द्वारा लोगों को खास तोहफा दिया गया। एम्स में गुरूवार को 2 वर्ष से 6 वर्ष के बच्चों के बीच के दो बच्चों को कोविड-19 टीके की पहली डोज दी गई। इससे पहले एम्स द्वारा 6 वर्ष से 12 वर्ष और 12 वर्ष से 18 वर्ष के बच्चों के बीच कोविड-19 टीके का सफल ट्रायल किया जा चुका है। तीसरे और अंतिम स्टेज में एम्स में गुरूवार को 3 वर्ष और 4 वर्ष के दो बच्चों को कोविड-19 टीके की पहला डोज दी गयी। डॉक्टरों ने इसे डॉक्टर्स डे का तोहफा बताया है। एम्स में कोविड-19 नोडल अधिकारी डॉक्टर संजीव कुमार ने बताया कि 2 से 6 वर्ष के 6 बच्चों के स्क्रीनिंग की गई थी। जिसमें से 4 बच्चों के शरीर में एंटीबॉडी बनने के बाद उन्हें रिजेक्ट कर दिया गया। दो बच्चों को आज कोविड-19 पहला डोज ट्रायल के रूप में दिया गया। बच्चों पर डोज देने के बाद उन्हें 2 घंटे के लिए कड़ी देखभाल के बीच रखा गया। इसके लिए एम्स के डॉक्टरों की विशेष टीम लगाई गई थी। 

नोडल अधिकारी डॉक्टर संजीव कुमार ने हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि अब देशभर में 2 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों को भी जल्द ही टीका दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि बच्चों पर गुरुवार को को वैक्सीन के प्रथम डोज दिए गए हैं। इसके बाद 28 में दिन इन्हें दूसरा डोज दिया जाएगा। ट्रायल पूरा होने के बाद इसकी रिपोर्ट आईसीएमआर को सौंपी जाएगी। उसके बाद सारी प्रक्रिया पूरी होने के बाद देश भर के बच्चों पर कोविड-19 डोज की शुरूआत की जाएगी।

Find Us on Facebook

Trending News