जम्मू-कश्मीर से 140 पिंडदानियों का दल पहुंचा गया, कहा अब मिली है कश्मीर को मुक्ति

जम्मू-कश्मीर से 140 पिंडदानियों का दल पहुंचा गया, कहा अब मिली है कश्मीर को मुक्ति

GAYA : गया में सनातन धर्मावलंबियों का पितृपक्ष मेला शुरू हो चुका है. इस दौरान अबतक लाखों की संख्या में पिंडदानी गया पहुंच चुके हैं और अपने पितरों के लिए पिंडदान कर रहे हैं. इसी क्रम में आज जम्मू-कश्मीर से 140 तीर्थयात्रियों का दल गया पहुंचा. शहर के सीताकुंड पिंडवेदी पर इन तीर्थयात्रियों ने अपने पितरों की आत्मा की शांति के लिए पिंडदान किया.

इस दल में शामिल जम्मू निवासी मदन लाल शर्मा ने कहा कि सभी 140 लोग एक साथ अपने पितरों के मोक्ष की प्राप्ति के लिए यहां पिंडदान कर रहे हैं. जिला प्रशासन की ओर से यहाँ अच्छी व्यवस्था की गयी है. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटने से सही मायने में वहां के लोगों को अब मुक्ति मिली है. जिस तरह से गयाजी में पिंडदान करने से पितरों को मोक्ष की प्राप्ति होती है. उसी तरह से 60 सालों बाद एनडीए की सरकार ने जिस तरह से धारा 370 जम्मू-कश्मीर में खत्म किया है. इससे हमलोगों को अब मुक्ति मिली है. उन्होंने कहा कि पहले पीओके में हम लोग नहीं जा सकते थे. 

क्योंकि वहां पर पाकिस्तान अपनी मर्जी चलाता था. लेकिन धारा 370 हटने से अब जम्मू-कश्मीर के लोग भी पीओके जा सकते हैं. अब कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत एक देश है. ऐसे एक संविधान और एक कानून ही सभी जगहों पर लागू होना चाहिए. उन्होंने कहा कि जब धारा 370 लागू थी. तब वहां के अलगाववादी नेताओं के हाथों में ही सब कुछ था. सरकार की योजना तभी मिल पाती थी जब अलगाववादी नेताओं की इच्छा होती थी. लेकिन अब सरकार की योजना जम्मू-कश्मीर के पंचायत स्तर तक लोगों को मिलेगी.

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News