आग में जल गई 10 नवजात की जिंदगी, कुछ बच्चे सिर्फ एक दिन के थे

आग में जल गई 10 नवजात की जिंदगी, कुछ बच्चे सिर्फ एक दिन के थे

डेस्क। महाराष्ट्र के भंडारा जिले में शुक्रवार-शनिवार की मध्य रात्रि में एक बड़ा हादसा हो गया। यहां के जिला अस्पताल के एसएनसीयू में आग लगने से 10 नवजात बच्चों की मौत हो गई है। मरनेवाले बच्चों की उम्र एक दिन से तीन माह के बीच थी। महज कुछ समय में मांओं की गोद सूनी हो गई। हादसे के बाद वहां हड़कंप मच गया और कुछ ही देर में वहां अधिकारियों की कतार लग गई। वहीं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने ज़िला अस्पताल में आग लगने की घटना को लेकर स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे के साथ-साथ भंडारा जिले के कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक से बात की। उन्होंने जांच का भी आदेश दिया है। आग लगने की वजह फिलहाल स्पष्ट नहीं है लेकिन कहा जा रहा है कि बच्चों के लिए चलने वाले वॉर्मर में शॉट सर्किट के बाद यह आग लगी। 

हादसे के वक्त 17 नवजात थे मौजूद

बताया गया कि भंडारा जिला अस्पताल के SNCU की दो इकाइयां हैं, जिनमें से मॉनिटर में मौजूद 7 बच्चों को बचा लिया गया है। वहीं आउट-बॉल यूनिट में 10 बच्चों की मौत हो गई। भंडारा के जिला कलेक्टर संदीप कदम ने बताया, “रात को करीब डेढ़ से दो बजे के बीच में सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट में आग लगने से 10 बच्चों की मौत हुई है और हमने 7 बच्चों को बचाया है।

पीएम, गृहमंत्री ने जताया शोक

हादसे को लेकर पीएम मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दुख जताया है। पीएम मोदी ने लिखा, 'महाराष्ट्र के भंडारा में दिल दहला देने वाली त्रासदी हुई, जहां हमने कीमती युवा जीवन को खो दिया। मेरे विचार सभी शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मुझे उम्मीद है कि घायल जल्द से जल्द ठीक हो जाएंगे।' राहुल गांधी ने घटना पर गहरा दुख जाहिर करते हुए हादसे में अपने बच्चों को खोनेवाले परिवार को जरुरी सहायता मुहैय्या कराने के लिए महाराष्ट्र सरकार को कहा है। गृह मंत्री अमित शाह ने लिखा है कि मेरे पास इस घटना के लेकर कहने को कोई शब्द नहीं है। ईश्वर दुखी परिवार को ताकत प्रदान करे।




Find Us on Facebook

Trending News