अब उपेंद्र को नीतीश सुहाने लगे, कहा- हमारे रास्ते अलग जरूर हैं, लेकिन कोई गलत बयान देगा तो बर्दाश्त नहीं करुंगा

अब उपेंद्र को नीतीश सुहाने लगे, कहा- हमारे रास्ते अलग जरूर हैं, लेकिन कोई गलत बयान देगा तो बर्दाश्त नहीं करुंगा

पटना... बिहार विधानसभा के सदस्य तेजस्वी यादव ने सदन में शुक्रवारको सत्र के आखिरी दिन अपना संबोधन दिया। पूरे संबाेधन में नीतीश कुमार उनके निशाने पर रहे। तेजस्वी यादव ने जिय तरीके से अपनी बातों को रखा,  उनपर हमला किया वो सियासत के नए-नए समीकरण सुगबुगाने लगे हैं। तेजस्वी यादव के बयानों के बाद आरएलएसपी अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा नीतीश कुमार के समर्थन में आ गए हैं और उनके साथ मजबूती से खड़ा होने की बात कहते नजर आ रहे हैं। साथ ही उपेंद्र कुशवाहा ने सियासत को संभावनाओं का खेल भी बता दिया है।

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि नीतीश कुमार जिस समाज से आते हैं, उस समाज से होने के कारण नीतीश कुमार जी के बारे में इस तरह का अटैक तेजस्वी यादव ने किया है। कोई दूसरा समाज का व्यक्ति होता तो तेजस्वी यादव इस तरीके से अटैक नहीं करते। मुझको लगता है कि पूरे बिहार के लोग उसको देख रहे हैं। निश्चित रूप से इस इसके बारे में किसी कोई बुरा लगेगा। मुझे भी बुरा लगा है। इससे ज्यादा कोई राजनीति का अर्थ नहीं है।


वहीं, उनके साथ जाने की बात पर उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि कल किसने देखा है कि कहां जाएं कि नहीं जाएं। यह तो संभावनाओं की बात है। राजनीति में संभावनाओं का खेल है, लेकिन व्यक्तिगत रूप से नीतीश कुमार को कोई गाली दे तो उपेंद्र कुशवाहा इसे बर्दाश्त नहीं करेगा। भले ही राजनीति में हम अलग हों, लेकिन हमारे लिए वो बड़े भाई जैसे हैं। 

इधर, कुशवाहा के बयान के बाद सियासी गलियारों में उठापठक होने की चर्चाएं तेज होने लगी। कुशवाहा का बयान आने के बाद कयासों के बीच प्रदेश जदयू अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह से जब पूछा गया तो वो कुछ भी बोलने से इंकार करते नजर आए। हालाकि दार्शनिक अंदाज में जरूर कहा कि कल किसने देखा है। वहीं आरजेडी नेता शक्ति सिंह यादव ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा जी खुद हारे हुए हैं उनके समर्थन से नीतीश को क्या मिलेगा।


Find Us on Facebook

Trending News