तेज रफ्तार के कारण अटल पथ पर हुआ हादसा, NEET की तैयारी कर रहे युवक-युवती की हुई मौत

तेज रफ्तार के कारण अटल पथ पर हुआ हादसा, NEET की तैयारी कर रहे युवक-युवती की हुई मौत

PATNA : पटना में बीती रात तेज रफ्तार के कारण हुए एक बड़े सड़क हादसे में दो लोगों की मौत हो गई। मरनेवालों की पहचान NEET की तैयारी कर रहे विनीत (18) तो दूसरी उसकी दोस्त विदुषी (17) के रूप में की गई है।

शुरुआती जांच में पता चला कि विनीत रोहतास का रहने वाला था। जबकि, विदुषी भोजपुर जिले के पीरो की रहनी वाली थी। दोनों ही बोरिंग रोड के अलग-अलग हॉस्टल में रहते थे। लेकिन, एक ही कोचिंग में पढ़ाई करते थे। दोनों एक साथ NEET की तैयारी करते थे।

बताया गया कि दोनों के बीच अच्छी दोस्ती थी। बीती रात दोनों बाइक पर घूमने के लिए एक साथ निकले थे। बाइक की स्पीड काफी अधिक होने के वजह से बैलेंस बिगड़ा और डिवाइडर से टकराने के बाद एक्सीडेंट हो गया। गंगा पथ पर बाइक से दोनों गांधी मैदान की ओर से दीघा की तरफ आ रहे थे। तभी पल्सर बाइक दीघा-अटल पथ रोटरी के पास डिवाइडर से टकरा गई। डिवाइडर से बाइक के टकराने के बाद युवक और युवती दूर जा गिरे थे। अचानक से हुए इस एक्सीडेंट की वजह से मौके पर हड़कंप मच गया। वहां मौजूद लोगों के होश उड़ गए। वहां मौजूद लोग दोनों को इलाज के लिए हॉस्पिटल ले जाने की कोशिशों में लगे थे, उसी दरम्यान दोनों की मौत हो गई थी। 

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, बाइक तेज रफ्तार में थी। विनीत और विदुषी दोनों ने ही हेलमेट नहीं पहना था। टक्कर लगते ही दोनों काफी दूर जाकर सड़क पर गिर पड़े। मौके मौजूद लोगों ने ही इमरजेंसी नंबर 112 पर कॉल किया। वहां हुए भयानक एक्सीडेंट की जानकारी दी। तब 112 की टीम पहुंची। लहूलुहान हालत में दीघा थाने की पुलिस उन्हें पाटलिपुत्र इंडस्ट्रियल एरिया स्थित एक निजी अस्पताल में लेकर पहुंची। वहां डॉक्टर ने दोनों के मौत की पुष्टि कर दी। 


हॉस्टल में रहते थे दोनों

जानकारी मिलने के बाद गांधी मैदान ट्रैफिक थाना की टीम पहुंची। शुरुआती जांच में पता चला कि विनीत रोहतास का रहने वाला था। जबकि, विदुषी भोजपुर जिले के पीरो की रहने वाली थी। दोनों ही बोरिंग रोड के अलग-अलग हॉस्टल में रहते थे। लेकिन, एक ही कोचिंग में पढ़ाई करते थे। दोनों एक साथ NEET की तैयारी करते थे। इस एक्सीडेंट की जानकारी ट्रैफिक थाना की पुलिस ने कॉल कर दोनों के परिवार को दी। जिस बाइक से एक्सीडेंट हुआ, वो विनीत के दोस्त की थी।

दादा के श्राद्धकर्म में जाने वाली थी विदुषी

विदुषी को अपने अपने घर जाना था। क्योंकि, मंगलवार को ही उसके दादा के निधन पर होने वाले श्राद्धकर्म में शामिल होना था। सुबह होते ही वो घर के लिए निकलने वाली थी। मगर, उसके पहले ही वो एक्सीडेंट की शिकार हो गई। इनके मौत की जानकारी मिलने के बाद पीरो में विदुषी और रोहतास में विनीत के घर कोहराम मच गया। देर रात को दोनों के परिवार वाले पटना पहुंच गए। साथ पढ़ाई करने वाले दोनों के कई दोस्त भी पहले से हॉस्पिटल पहुंचे हुए थे।

विदुषी के पिता सुभाष राय आरा के बिक्रम स्थित स्कूल में खेल शिक्षक हैं। वह दो भाई-बहन में छोटी थी। सूचना मिलते ही उसके बड़े भाई अस्पताल आए थे। वहीं, विनीत के पिता अनिल कुमार की दिनारा में दवा दुकान है। विदुषी और विनीत तीन महीने पहले ही नीट की तैयारी करने के लिए पटना आए थे। दोनों बोरिंग रोड के हास्टलों में रहते थे। विनीत की छोटी बहन खुशी कुमारी भी यहां गर्ल्स हास्टल में रहकर पढ़ाई करती है। खुशी ने बताया कि घटना की जानकारी उसे शाम करीब सात बजे मिली थी।



Find Us on Facebook

Trending News