28 बैंकों से 22,842 करोड़ की धोखाधड़ी के मामले में हुई कार्रवाई, सीबीआई ने इस बड़ी कंपनी के चेयरमैन को किया गिरफ्तार

28 बैंकों से 22,842 करोड़ की धोखाधड़ी के मामले में हुई कार्रवाई, सीबीआई ने इस बड़ी कंपनी के चेयरमैन को किया गिरफ्तार

PATNA : 22,842 करोड़ रुपए के बैंक धोखाधड़ी के मामले में सीबीआई ने बड़ी कार्रवाई की है। धोखाधड़ी के मामले में CBI ने बुधवार (21 सितंबर) को ABG शिपयार्ड लिमिटेड के फाउंडर-चेयरमैन ऋषि कमलेश अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले CBI ने इंडियन पीनल कोड (IPC) और प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट के तहत आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी और आधिकारिक पद के दुरुपयोग के कथित अपराधों के लिए कंपनी के पूर्व चेयरमैन अग्रवाल और अन्य पर मामला दर्ज किया था।

28 बैंकों को दिया था धोखा
 कंपनी को ICICI बैंक के नेतृत्व में 28 बैंकों और फाइनेंशियल इंस्टीट्यूट्स से क्रेडिट फैसिलिटी मिली थी। शिपिंग कंपनी पर ICICI बैंक का 7,089 करोड़ रुपए, SBI का 2,925 करोड़ रुपए, IDBI बैंक का 3,634 करोड़ रुपए, बैंक ऑफ बड़ौदा का 1,614 करोड़ रुपए, पंजाब नेशनल बैंक का 1,244 करोड़ रुपए, एक्जिम बैंक का 1,327 करोड़ रुपए, इंडियन ओवरसीज बैंक का 1,228 रुपए और बैंक ऑफ इंडिया का 719 करोड़ रुपए बकाया है। इसके अलावा कुछ अन्य बैंकों का भी बकाया है।

इस मामले में सीबीआई ने डेढ़ साल पहले मामला दर्ज किया था। जिसके बाद जांच कंपनी के खिलाफ जांच चल रही थी। जांच में पुष्टि होने के बाद अब ABG शिपयार्ड लिमिटेड के पूर्व CMD ऋषि कमलेश अग्रवाल और तत्कालीन कार्यकारी निदेशक संथानम मुथुस्वामी और तीन अन्य निदेशकों अश्विनी कुमार सुशील कुमार अग्रवाल और रवि विमल नेवतिया को आरोपी बनाया गया है। CBI की FIR के मुताबिक, फ्रॉड करने वाली दो कंपनियां मुख्य हैं। इनमें ABG शिपयार्ड के अलावा ABG प्राइवेट लिमिटेड शामिल है। ये दोनों कंपनियां एक ही ग्रुप की हैं।


Find Us on Facebook

Trending News