'स्टाफ' ने पूरी पार्टी की नाक में कर दिया है दम! राष्ट्रीय अध्यक्ष से लेकर कार्यकर्ता तक जवाब देते-देते हैं बेदम

'स्टाफ' ने पूरी पार्टी की नाक में कर दिया है दम! राष्ट्रीय अध्यक्ष से लेकर कार्यकर्ता तक जवाब देते-देते हैं बेदम

पटना. नीतीश कुमार ने जिस नेता को अपने दल का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया, अब उसी नेता को स्टाफ बताया जा रहा। नीतीश कुमार,जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह समेत पूरी पार्टी अपने पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह को अदना सा स्टाफ बता रहा। अदना सा स्टाफ को जबाव देने के लिए पूरी पार्टी मैदान में उतरी हुई है। स्टाफ को जबाव देने के लिए जेडीयू के सारे नेता बेदम हैं। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह अब तक कई दफे स्टाफ पर हमला कर चुके हैं। राजनीतिक जानकार संजय कुमार आगे बताते हैं कि आरसीपी सिंह के वजूद का ही परिणाम है कि जेडीयू के बड़े नेता से लेकर कार्यकर्ता तक परेशान हैं। भला कोई सियासी शक्ति विहीन व्यक्ति (स्टाफ) को जवाब क्यों देगा ? 

वो स्टाफ था न जी? 

आज एक बार फिर से जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने अपने पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह पर हमला बोला। उन्होंने फिर से उन्हें स्टाफ करार दिया। ललन सिंह ने कहा कि जिसका आप नाम ले रहे हैं वो स्टाफ था न जी...प्राइवेट सेक्रेट्री था न जी.स्टाफ की बात क्या करते हैं? वो गये... जहां जाना था वहां गये। 

नीतीश पीएम कैंडिडेट नहीं-ललन

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने कहा है कि हमने कभी नहीं कहा कि नीतीश कुमार 2024 में पीएम के उम्मीदवार है। लेकिन नीतीश कुमार में पीएम बनने की सभी काबलियत मौजूद है। अगामी लोकसाभ चुनाव में नीतीश कुमार सभी विपक्षी दलों को एकजुट करेंगे। उन्होंने कहा कि जीतने के बाद जिन्हें प्रधानमंत्री बनना होगा, वे बनएंगे।ललन सिंह सोमवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव में नीतीश कुमार विपक्ष को एकजुट करेंगे और नरेंद्र मोदी को हराएंगे। सवालों को जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि हमने कभी नहीं कहा कि नीतीश कुमार पीएम के उम्मीदवार है, लेकिन पीएम बनने की उनमें सभी योग्यता हैं। लोकसभा चुनाव में अगर भाजपा की हार होगी, तो जिन्हें प्रधानमंत्री बनना होगा, वे बनेंगे।

खादी की कुर्ता और पैजामा भी पहनना आरसीपी नहीं जानते होंगे

इस दौरान ललन सिंह ने जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह पर भी जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि आरसीपी कौन है? उन्हें बड़ा नेता बताया जा रहा है। असलियत यह है कि वे नीतीश कुमार के अंदर एक सरकरी नौकर थे। उन्हें सीएम नीतीश ने नेता बनाया। वे खादी की कुर्ता और पैजामा भी नहीं पहनना जानते होंगे। सीएम नीतीश ने उन्हें दो बार राज्यसभा भेजा। इसके बाद पार्टी का अध्यक्ष बनाया। फिर इसके बाद केंद्रीय मंत्री बने। उन्हें बड़ा नेता मत बनाइएं।

Find Us on Facebook

Trending News