मुख्यमंत्री की गाड़ी पर स्याही फेंकने को लेकर पुलिस मुख्यालय सख्त, पूछा - CM की सुरक्षा में इतनी बड़ी चूक कैसे?

मुख्यमंत्री की गाड़ी पर स्याही फेंकने को लेकर पुलिस मुख्यालय सख्त, पूछा - CM की सुरक्षा में इतनी बड़ी चूक कैसे?

MUZAFFARPUR:  मुजफ्फरपुर ज़िले के अहियापुर थाना क्षेत्र के SKMCH में PICU का शिलान्यास करने पहुंचे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की गाड़ी पर स्याही फेंकने और गरीब जनक्रांति पार्टी के द्वारा काला झंडा दिखाने को लेकर पुलिस मुख्यालय सख्त हो गया है। बता दें कि इस दौरान कुछ देर के लिए मुख्यमंत्री की गाड़ी रुकी भी रही बाद में मुख्यमंत्री के सुरक्षा गार्डों द्वारा काफिले को आगे बढ़ाया गया लेकिन स्थानीय स्तर पर मुख्यमंत्री की सुरक्षा में तैनात पुलिस अधिकारी और जवान नदारत रहे। इसको लेकर बिहार पुलिस मुख्यालय ने जवाब तलब किया है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ADG स्पेशल ब्रांच जितेंद्र सिंह गंगवार के द्वारा एक पत्र जारी करते हुए मुजफ्फरपुर के वरीय पुलिस अधीक्षक से जबाब तलब किया है कि आखिर स्पेशल ब्रांच के द्वारा दिये गए पूर्व सूचना के आलोक में क्या कार्रवाई की गई, मुख्यमंत्री की सुरक्षा में उस स्थान पर किस अधिकारी को लगाया गया था और क्या जवाबदेही तय की गई था।

 साथ ही कहा गया है कि आउटर कोर्डन में जिला बल से प्रतिनियुक्त पदाधिकारी और कर्मियों द्वारा भाग रहे दो असमाजिक तत्वों को क्यों नहीं पकड़ा गया जबकि दो को मुख्यमंत्री के सुरक्षा गार्डों के द्वारा पकड़ा गया । साथ ही कड़े शब्दों में कहा है कि प्री इनपुट के बाद भी अपेक्षित कार्रवाई नही की गई जिसके फलस्वरूप घटना घटित हुई है। 

वे कौन कौन से अधिकारी और कर्मियों को जवाबदेही दी गयी थी जिन्होंने अपने उत्तरदायित्व का निर्वहन नहीं किया, आउटर कोर्डन और रुट लाइन में प्रतिनियुक्त कर्मियों और पदाधिकारियों पर कार्रवाई करते हुए यथाशीघ्र वस्तु स्थिति स्पष्ट करें । 

अब देखना लाजमी होगा कि आखिर इतनी बड़ी लापरवाही की गाज जिले के किन- किन अधिकारियों और कर्मियों पर गिरती है। पूर्व सूचना के बाद भी इतनी बड़ी चूक वह भी मुख्यमंत्री की सुरक्षा में कैसे हो गयी ।


Find Us on Facebook

Trending News