स्कूलों में छुट्टी व लंच ब्रेक में जुटने वाली भीड़ से प्रशासन चिंतित, पटना कमिश्नर ने जारी किए यह निर्देश...

स्कूलों में छुट्टी व लंच ब्रेक में जुटने वाली भीड़ से प्रशासन चिंतित, पटना कमिश्नर ने जारी किए यह निर्देश...

PATNA: प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने स्कूलों में छुट्टी एवं टिफिन के समय छात्र-छात्राओं की भीड़ को रेगुलेट करने के लिए पटना प्रमंडल के सभी जिलाधिकारी तथा जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया है। दिशा-निर्देश में मुख्य रूप से इस बात फोकस किया है कि टिफिन के समय स्कूल कैंपस में भीड़ इकट्ठा ना हो और एक साथ सभी बच्चों की छुट्टी ना की जाए। 

बैठक में आयुक्त ने कहा कि कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए एक साथ छुट्टी न कर 10-15 मिनट के अंतराल पर आधे-आधे छात्र-छात्राओं की छुट्टी करें। वहीं टिफिन के समय स्कूल कैंपस में एक साथ बच्चे इकट्ठा ना हो, इसके लिए दो भाग में कक्षाओं को बांटकर 15 मिनट का अंतराल दें। जैसे कि कक्षा 1-5 को निर्धारित समय के 15 मिनट पहले तथा 5-8 को निर्धारित समय के 15 मिनट बाद। प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि ट्रैफिक की समीक्षा बैठक में यह बात सामने आयी है कि स्कूलों में एक साथ छुट्टी किये जाने से सड़क पर जाम की समस्या भी उत्पन्न हो रही है। साथ ही कई अभिवावकों से शिकायत मिली है कि छुट्टी और टिफिन के समय स्कूल के अंदर तथा गेट के बाहर काफी भीड़ हो जाती है, जिससे कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं होता है। वहीं कुछ प्राइवेट स्कूलों के बारे में अभिवावकों से शिकायत मिली है कि छुट्टी के समय और टिफिन के समय स्कूल परिसर में भीड़ लग जाती है। ट्रैफिक की समीक्षा में भी यह बातें सामने आयी है कि एक साथ छुट्टी दिए जाने से स्कूल के बाहर जाम की समस्या भी उत्पन्न हो जाती है। 


उन्होंने बताया कि पहले स्कूलों में 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ खोले जा रहे थे। अब नयी गाइडलाइन के तहत सभी विद्यालय पूरी संख्या में खुल रहे हैं। अतः विद्यालयों में पूरी सुरक्षा की जरूरत है। कोविड के प्रति बच्चों को शिक्षित करें ताकि उनके मन में किसी प्रकार का गलत जानकारी नहीं रहे। बच्चों को मास्क लगाने के लिए प्रेरित करें तथा समय-समय पर उन्हें इस बीमारी के बारे में जानकारी भी दें। समीक्षा बैठक के अंत में कमिश्नर ने कहा कि स्कूल जल्द से जल्द अपने स्तर पर इसके लिए निर्णय लें, ताकि बच्चों को किसी तरह की समस्या ना हो और अभिवावक बच्चों को स्कूल भेजने में हिचके नहीं।

Find Us on Facebook

Trending News