प्रशासनिक लापरवाही : सरकार के सामूहिक विवाह कार्यक्रम में हो गई बड़ी गड़बड़ी, यहां आंकड़े पूरा करने के लिए भाई-बहनों के करवा दिए सात फेरे

प्रशासनिक लापरवाही : सरकार के सामूहिक विवाह कार्यक्रम में हो गई बड़ी गड़बड़ी, यहां आंकड़े पूरा करने के लिए भाई-बहनों के करवा दिए सात फेरे

DESK :  यूपी के फिरोजाबाद जिले में सामूहिक शादी कार्यक्रम में एक ऐसे जोड़े ने शादी रचा ली, जिसके बारे में जानकर अधिकारी भी हैरान रह गए। यहां सामूहिक शादी कार्यक्रम में एक युवक ने अपनी ही बहन के संग सात फेरे ले लिए। जब इस शादी को लेकर शिकायत की गई तो मामला सामने आया। अब युवक के खिलाफ थाने में तहरीर दी गई है। वहीं अन्य मामलों की जांच की जा रही है। इसके साथ ही शादी के लिए जोड़ों का सत्यापन करने वाले अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा गया है। 

मामला फिरोजाबाद के टू़ंडला से जुड़ा हुआ है। यहां बीते शनिवार को टूंडला खंड विकास कार्यालय परिसर में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस समारोह में नगरपालिका टूंडला, ब्लाक टूंडला व ब्लॉक नारखी के 51 जोड़ों की शादी कराई गई थी। समारोह में सभी जोड़ों को गृहस्थी का सामान व कपड़े आदि प्रदान किए गए थे। 

फिरोजाबाद के टूंडला में एक युवक ने चंद रुपयों के लालच में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत बहन से शादी कर ली। जांच में जब मामला खुला तो अधिकारी हैरान रह गए। युवक के खिलाफ थाने में तहरीर दी गई है। वहीं अन्य मामलों की जांच की जा रही है। इसके साथ ही शादी के लिए जोड़ों का सत्यापन करने वाले अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा गया है। 

फोटो वीडियो सामने आने के बाद खुला मामला

इस सामूहिक शादी में हुए गड़बड़ी तब सामने आई, जब समारोह में कुछ जोड़ों के वीडियो व फोटो क्षेत्र के लोगों व ग्राम प्रधान तक पहुंचा। समारोह में फर्जीवाड़े के चार मामले सामने आए। इनमें से एक मामले में रिश्ते के शादीशुदा भाई ने बहन से ही शादी कर ली थी। इस मामले में जांच के बाद नगला प्रेम (घड़ी) निवासी भाई के खिलाफ समाज कल्याण विभाग के सहायक विकास अधिकारी चंद्रभान सिंह ने तहरीर दी है। 

गड़बड़ी पर एसडीएम ने मांगा स्पष्टीकरण

टूंडला के खंड विकास अधिकारी नरेश कुमार ने बताया कि फर्जी तरीके से शादी करने वाले भाई के विरुद्ध एफआईआर कराई गई है। दोबारा शादी करने वाली अपात्र महिला से प्रदत्त गृहस्थी का सामान ले लिया गया है। छात्रा के दो आधार कार्डों की जांच चल रही है। जांच के बाद दोषी के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।  वहीं खंड विकास अधिकारी नरेश कुमार ने बताया कि शादी के लिए जोड़ों की तलाश व सत्यापन करने वाले ग्राम पंचायत सचिव मरसेना कुशलपाल, ग्राम पंचायत घिरौली सचिव अनुराग सिंह, एडीओ कॉपरेटिव सुधीर कुमार एडीओ समाज कल्याण विभाग चंद्रभान सिंह से स्पष्टीकरण मांगा गया है। संतोषजनक स्पष्टीकरण प्राप्त न होने पर उनके विरुद्ध भी कार्रवाई की जाएगी। 

थाने में दर्ज हुआ मामला

टूंडला कोतवाली के प्रभारी राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि समाज कल्याण विभाग के सहायक विकास अधिकारी द्वारा सामूहिक विवाह समारोह में अनुपस्थित जोड़ों के स्थान पर फर्जी तरीके से शादी करने के मामले में शिकायत की गई है। फिलहाल जांच की जा रही है। जांच के बाद मुकदमा दर्ज कर आरोपी के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। 


Find Us on Facebook

Trending News