पटना हाईकोर्ट में एडवोकेट एसोसिएशन ने पारित की पांच सूत्री मांगे, कहा वार्षिक बजट में हो 300 करोड़ रूपये का प्रावधान

पटना हाईकोर्ट में एडवोकेट एसोसिएशन ने पारित की पांच सूत्री मांगे, कहा वार्षिक बजट में हो 300 करोड़ रूपये का प्रावधान

PATNA : पटना हाईकोर्ट में आज एडवोकेट एसोसिएशन हॉल में भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद की 138 वीं जयंती मनाई गई। इसे अधिवक्तागण अधिवक्ता दिवस के रूप में मनाते है। एडवोकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष योगेश चंद्र वर्मा के नेतृत्व में वकीलों ने वकील कल्याण के लिए अपने पाँच सूत्री माँग का प्रस्ताव पारित किया।


वरीय अधिवक्ता  योगेश चंद्र वर्मा ने इन मांगों के सम्बन्ध में बताते हुए कहा कि वकीलों के लिए मूलभूत सुविधाओं की काफी कमी है। उनके बैठने, कार्य करने, आधुनिक पुस्तकालय, तकनीक का अभाव है। केंद्र और राज्य सरकार से इस मामलें त्वरित कार्रवाई करने की माँग की गई।

उन्होंने बताया कि कोविड काल में वकीलों के स्वास्थ्य पर काफी बुरा असर पड़ा है। उन्होंने माँग की कि केंद्र सरकार के आयुष्मान योजना में वकीलों को भी शामिल किया जाए। साथ ही एडवोकेट प्रॉटेक्शन एक्ट को भी जल्दी लागू किया जाए, ताकि वकीलों को प्रभावी सुरक्षा मिल सके।

उन्होंने कहा कि केरल राज्य के तर्ज पर युवा वकीलों को कुछ सालों तक आर्थिक सहायता की जाए,ताकि वे इस पेशा में अपने को स्थापित कर सके। उन्होंने कहा कि ये वकीलों की बुनियादी जरूरत हैं। साथ ही राज्य सरकार से माँग की वकीलों के राज्य वार्षिक बजट में वकीलों के लिए ढाई तीन सौ करोड़ रुपए का प्रावधान हो।

Find Us on Facebook

Trending News