पटना में शादी के 7 दिन बाद युवक की सड़क हादसे में हुई मौत, दुल्हन के हाथों की मेहंदी छूटने से पहले मिट गया सुहाग...

पटना में शादी के 7 दिन बाद युवक की सड़क हादसे में हुई मौत, दुल्हन के हाथों की मेहंदी छूटने से पहले मिट गया सुहाग...

PATNA : पटना के नौबतपुर में शादी के सात दिन बाद युवक की सड़क हादसे में मौत हो गयी। परिजन अस्पताल लेकर गए पर जान चली गयी। घटना के बाद पूरे परिवार में कोहराम मच गया साथ ही नई नवेली दुल्हन निधि यादव बेहोश हो गयी। होश में आने पर वह बार-बार एक ही रट लगाये थी... कोई मेरे सुहाग को ले आओ...मनीष के बड़ी बहन और छोटे भाई का रो-रोकर बुरा हाल था। मृतक मनीष यादव 17 वर्ष। नौबतपुर के खजूरी टोला निवासी चंद्रिका यादव का पुत्र था और वह तीन भाई-बहनों में दूसरे नंबर पर था। यह दुखद घटना नौबतपुर थाना से थोड़ी दूरी पर नौबतपुर भुसौला मार्ग एनएच 139 पर चिरौरा गैस गोदाम के समीप सोमवार को हुआ। 

बताया जाता है कि मनीष यादव चिरौरा स्थित वाईफाई के प्राइवेट कंपनी में काम करता था। मनीष शादी के सात दिन बाद शादी में मिला हुआ बाइक से सोमवार को चिरौरा स्थित वाईफाई केवल कंपनी में काम करने जा रहा था। तभी चिरौरा गैस गोदाम के पास एक अनियंत्रित बस ने मनीष को बुरी तरह कुचल दिया। हादसे के बाद बस चालक बस को लेकर भाग निकला। इस हादसे में मनीष गंभीर रूप से घायल हो गया। राहगीरों व परिजन आनन-फानन में इलाज के लिए नौबतपुर रेफरल अस्पताल ले आए। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सक ने गंभीर स्थिति देखते हुए उसे एम्स रेफर कर दिया, लेकिन मनीष रास्ते में ही दम तोड़ दिया। बाद में घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को परिजनों को पोस्टमार्टम करवाने के लिए कहा तो परिजनों ने पोस्टमार्टम के लिए इनकार कर दिया। इसके बाद पुलिस ने परिजनों को शव सौंप दिया। 

एक सप्ताह पहले हुई थी शादी

मनीष की शादी 13 दिसंबर को दुल्हिन बाजार के सोरमपुर निवासी बाल्मीकि यादव की पुत्री निधि यादव से हुई थी। 7 दिन पूर्व शादी संपन्न होने के बाद घर के मंडप का बास अभी सूखा भी नहीं था कि अचानक घर में मनीष के मौत की सूचना ने घर सहित पूरे गांव को झकझोर कर रख दिया। मनीष के मौत की सूचना जैसे ही घर पर पहुंचे मनीष की नई नवेली दुल्हन बनी पत्नी निधि पछाड़ खाकर आंगन में गिर पड़ी। अपने हाथों की रंग बिरंगी चूड़ियों को मंडप के पास तोड़कर भगवान से यह बार-बार जानना चाह रही थी कि आखिर भगवान ने उन्हें किस जन्मों के पाप की सजा दी है। पत्नी निधि की इस हालत को देखकर पूरे परिवार सहित मोहल्ले के लोग के आंखों में आंसू छलक रहा था। नौबतपुर थानाध्यक्ष सम्राट दीपक ने बताया कि परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया है।

Find Us on Facebook

Trending News