बिहार के बाद अब झारखंड में भी महागठबंधन में रार, सीट बंटवारे को लेकर अड़े पूर्व सीएम बाबूलाल

बिहार के बाद अब झारखंड में भी महागठबंधन में रार, सीट बंटवारे को लेकर अड़े पूर्व सीएम बाबूलाल

NEWS4NATION DESK : 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को सत्ता से दूर करने के लिए विपक्ष द्वारा बने महागठबंधन में सीट बंटवारे को लेकर खींचतान जारी है। बिहार के बाद अब झारखंड में भी महागठबंधन के अंदर दरार पड़ने लगी है। महागठबंधन में शामिल सभी दल अपनी-अपनी पसंद और ज्यादा से ज्यादा सीटों पर दावेदारी करने में जुटे है। महागठबंधन के अंदर गोड्डा सीट को लेकर फंसा पेंच उलझता जा रहा है। इस सीट को लेकर कांग्रेस और प्रदेश के पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी की पार्टी जेवीएम दोनों ओर से दावेदारी की जा रही है। इस सीट को लेकर बाबूलाल अड़ गए है। 

गोड्डा सीट को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार ने गिरिडीह में जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी से मुलाकात की। इस दौरान गोड्डा सीट को लेकर चर्चा हुई। लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला। हालांकि जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी का कहना है कि बातचीत चल रही है। उम्मीद की जानी चाहिए कि परिणाम अच्छे निकलेंगे। बाबूलाल ने कहा है कि उनकी तरफ से बीजेपी को हराने की पुरजोर कोशिश है। उन्होंने कहा कि बीजेपी को सत्ता से बाहर करना है तो जीत की संभावना के मद्देनजर दलों को सीट मिलनी चाहिए।

बताया जा रहा है कि जेवीएम की ओर से लोकसभा चुनाव को लेकर तीन सीट, गोड्डा, कोडरमा और चतरा की मांग की गई है। इनमें से पार्टी गोड्डा सीट हर हाल में चाह रही है। उधर कांग्रेस का भी गोड्डा सीट पर दावा है। कांग्रेस पिछले चुनाव में प्रदर्शन के आधार पर यह सीट मांग रही है।

बता दें कि इधर बिहार में भी महागठबंधन में शामिल दलों द्वारा अपनी-अपनी दावेदारी पेश की जा रही है। बिहार के पूर्व सीएम और हम सुप्रीमो जीतन राम मांझी का साफ तौर पर कहना है कि वे महागठबंधन के साथ शुरु से है और उन्हें अन्य दलों के बराबर सीट मिलनी चाहिए।  

Find Us on Facebook

Trending News