चुनाव बाद से तेजस्वी सियासत से नदारद, बीजेपी बोली-राजद पुलिस से कराए उनकी खोज

चुनाव बाद से तेजस्वी सियासत से नदारद, बीजेपी बोली-राजद पुलिस से कराए उनकी खोज

PATNA : बिहार के पॉलिटिक्ल कॉरिडोर में जब से इफ्तार पार्टी का आयोजन हुआ है। तब से सियासत में बहुत पानी बह चुका है। लेकिन इन सबके बीच तेजस्वी यादव गायब हैं। उनका न ही कोई बयान, न ही कोई सियासी ट्वीट सामने आ रहा है। तेजस्वी यादव के अचानक गायब होने पर बीजेपी ने बड़ा हमला बोला है। 

बीजेपी प्रदेश प्रवक्ता प्रेमरंजन पटेल ने कहा है कि तेजस्वी यादव ने जिस प्रकार बालू के रेत पर झूठ का बवंडर किया था। उस व्यक्ति ने पूरे महागठबंधन पर दादागिरी जमाने का काम किया था। उसका खामियाजा सिर्फ राजद को ही नहीं महागठबंधन में शामिल दलों को भी भुगतना पड़ा। 

पटेल ने कहा है कि तेजस्वी यादव ने अपनी राजनीति को चमकाने के लिए लालू यादव के समकक्ष रहे महागठबंधन के सहयोगी दल के नेताओं के कद को बौना कर किनारे लगाने का काम किया था। तेजस्वी यादव की इस दादागिरी की वजह से महागठबंधन को बड़ी पराजय का सामना करना पड़ा है। अब इस पराजय के बाद तेजस्वी यादव किसी को मुंह दिखाने के लायक नहीं है। इसलिए भागे फिर रहे हैं।

पटेल ने कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम नीतीश कुमार पर अपशब्दों का प्रयोग कर तेजस्वी यादव ने अपने पैर में कुल्हाड़ी मारने का काम किया है। 

वहीं उन्होंने तेजस्वी यादव पर तंज कसते हुए कहा है कि  तेजस्वी यादव जी, हार और जीत लगी रहती है, आईए और सबका सामना करिए। वहीं आरजेडी को सलाह देते हुए कहा है कि राजद के लोगों को तेजस्वी की खोज करनी चाहिए। अगर नहीं मिलते हैं तो आरजेडी के लोग थाने में रपट दर्ज करवाए। और प्रशासन कहीं न कहीं से उनको तलाश कर लाएगी। 

बता दें कि तेजस्वी यादव ने बीते 29 मई आरजेडी की विधान मंडल की बैठक में शिरकत किया था। बैठक के बाद देर शाम इंडिगो की फ्लाइट से दिल्ली चले गए। उसके बाद से ही वो अभी तक पटना नहीं लौटे हैं।

पटना से देवांशु प्रभात की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News