दस साल की सजा मिलने के बाद बेऊर जेल में भी नहीं मिली राहत, जेल प्रशासन ने उठाया बड़ा कदम

दस साल की सजा मिलने के बाद बेऊर जेल में भी नहीं मिली राहत, जेल प्रशासन ने उठाया बड़ा कदम

PATNA : घर में एके 47 रखने के आरोप में 10 सजा मिलने के बाद मोकामा से राजद विधायक अनंत सिंह की परेशानी और बढ़ गई है। सजा मिलने के बाद बेऊर जेल भेजे गए अनंत सिंह की देखभाल के लिए रखे गए दोनों सेवादारों को हटा दिया गया है। अब उन्हें जेल के दूसरे कैदियों की तरह यहां रहना होगा, साथ ही कैदियों को जो भोजन दिया जाता है, वही भोजन उन्हें भी उपलब्ध कराया जाएगा। 

बता दें कि मोकामा विधायक बेऊर जेल में अब तक विचाराधीन बंदी के रूप में थे। जिसके कारण जेल के नियम पूरी तरह उन पर लागू नहीं होते थे। साथ ही वह विधायक भी थे, जिसके कारण उन्हें दो सेवादार भी उपलब्ध कराए गए थे।  सेवादार विधायक के लिए भोजन भी बनाते थे।  लेकिन मंगलवार को कोर्ट से सजा सुनाए जाने के बाद वह सजाएफ्ता कैदी हो गए हैं। ऐसे में जेल प्रशासन ने उन्हें दी जानेवाली सुविधायों में कटौती कर दी है। सेवादारों के हटने के बाद खुद भोजन बनवाने की व्यवस्था खत्म कर दी गयी  है।  हालांकि उनकी सुरक्षा को देखते हुए किसी प्रकार का बदलाव नहीं किया गया है और वह फिलहाल वह पूर्व की तरह ही उच्च स्तरीय सेल में ही बंद है।

बता दें कि राजद विधायक के बाढ़ के नदवां स्थित उनके घर से एके 47 राइफल, हैंड ग्रेनेड की बरामदगी हुई थी। जिसमें मंगलवार को कोर्ट ने उन्हें दस साल की सजा सुनाई थी। इसके साथ ही अब उनके विधायक पद के भी छीने जाने की संभावना है।


Find Us on Facebook

Trending News