मोतिहारी में बीसीजी का टीका देने के बाद बिगड़ी आधा दर्जन नवजातों की तबियत, परिजनों में मचा हड़कंप

मोतिहारी में बीसीजी का टीका देने के बाद बिगड़ी आधा दर्जन नवजातों की तबियत, परिजनों में मचा हड़कंप

MOTIHARI : ज़िले के अस्पताल से नवजात के परिजनों के पास फोन जाते ही हड़कंप मच गया। सभी परिजन अपने अपने नवजात को लेकर भागे भागे सदर अस्पताल पहुंचे। जहाँ सदर अस्पताल में पहुचे तीन नवजात का इलाज चल रहा है। बताया जा रहा है की टीका देने के बाद नवजात की तबियत बिगड़ी थी। सीएस ने जांच के बाद कहा कि सभी बच्चे स्वस्थ्य है। विशेषज्ञ डाक्टर के देखरेख उनका इलाज चल रहा है। मामला कल्याणपुर पीएचसी का बताया जा रहा है। जहाँ आज सुबह नवजात बच्चों को टीका दिया गया था। परिजनों के अनुसार टीका देने के बाद बच्चे सुस्त होने लगे। इसी क्रम में अस्पताल से एएनएम ने फोन कर सभी बच्चों के परिजन को तुरन्त सदर अस्पताल ले जाने को कहा। फोन सुनने के बाद परिजन भागे भागे सदर अस्पताल पहुचे।


मिली जानकारी के मुताबिक कल्याणपुर पीएचसी अस्पताल में टीका लगाने के बाद छः नवजात की तबीयत बिगड़ गई। सभी बच्चे का जन्म रात को हुआ था और सुबह 7 बजे बच्चे को टीका दिया गया था। जिसके बाद बच्चे की हालत बिगड़ने लगी। वही मामले में मोतिहारी सिविल सर्जन का कहना है कि कल्याणपुर पीएचसी में बच्चे को BCG का टीका दिया गया था। जिससे रेडियस व रैशेज हो गया था। जिसके बाद मोतिहारी सदर अस्पताल में तीन बच्चे की भर्ती किया गया था। जिसमे दो बच्चे का रैशेज ठीक हो चुका है और एक का ठीक हो रहा है। उन्होंने कहा की सभी बच्चे को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है। 

वही परिजनों का कहना था कि रात में बच्चे एकदम स्वास्थ्य पैदा हुए थे और सुबह में BCG का टीका लगने के कुछ ही देर बाद बच्चे बेहोश होने लगे। हमलोगों को लगा बच्चा सो रहा है और हम अपने बच्चे को लेकर घर आ गए। तभी नर्स ने फोन कर के बताया कि आप अपने बच्चे को लेकर मोतिहारी सदर अस्पताल इलाज के लिए चले जाएं। बच्चे को इंफेक्शन हो गया है। 

परिजनों ने बताया कि तीन बच्चे मोतिहारी आए है और अन्य तीन बच्चे का इलाज कही दूसरे जगह हो रहा है। अब यहाँ सबसे बड़ा सवाल उठता है कि इतनी बड़ी लापरवाही हुई कैसे? आखिर इसका जिम्मेवार कौन होगा जो जांच का विषय है। 

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News