जयमाला के बाद दूल्हा बिना शादी के लौट गया वापस, फिर दुल्हन ने उठाया ऐसा कदम कि सिहर गए लोग

जयमाला के बाद दूल्हा बिना शादी के लौट गया वापस, फिर दुल्हन ने उठाया ऐसा कदम कि सिहर गए लोग

DESK : शादी के दौरान वर-वधू पक्षों के बीच विवाद होते रहते हैं। कई बार मामला दहेज से जुड़ा होता है। कई बार इसके परिणाम भी बेहद खतरनाक होते हैं। ऐसा ही एक मामला गहदो के नारायण पुर गांव में देखने को मिला है। जहां जयमाला के बाद पसंद की बाइक नहीं मिलने को लेकर दूल्हा बिना फेरे वापस लौट गया। वहीं इस घटना ने दुल्हन बनी युवती को इतना परेशान कर दिया कि उसने फांसी लगा ली।

ग्रामीणों ने बताया कि रविवार को गहदो के नारायण पुर गाव में अमित की बेटी संध्या की शादी थी। नौबस्ता सलेहनगर निवासी ठाकुरदीन के बेटे अमर बहादुर से रिश्ता तय हुआ था। बारात आई और जयमाल हो गया। फिर अचानक दूल्हा अमर बाइक को लेकर नाराज हो गया  गांव में शादी की तैयारियों को लेकर हर तरफ खुशनुमा माहौल था। जयमाला के बाद दूल्हा पसंद की बाइक नहीं मिलने से नाराज हो गया। वहीं दूसरी तरफ वहीं, लड़की के घर वाले वर पक्ष से आये जेवर को लेकर नाराज हो गये थे। जेवर हल्के व कम होने की बात को लेकर विवाद काफी हद तक बढ़ गया। 

विवाद के कारण नहीं हुई शादी, दुल्हन ने लगा ली फांसी

इसके बाद बिना फेरों के ही वर व बाराती वापस हो गए। घटना से सदमे में आई दुल्हन संध्या ने सोमवार की रात घर में ही फांसी लगा ली। हालांकि संध्या के घरवालों ने अज्ञात कारणों से आत्महत्या किए जाने की बात कही है। संध्या की मां शांति ने बताया कि हम बहुत परेशान हैं। हमें किसी पर कोई आरोप नहीं लगाना।

वहीं थानाध्यक्ष माल रविन्द्र कुमार ने बताया कि पीड़ित परिवार ने किसी पर आरोप नहीं लगाया है। सही तथ्यों की खोजबीन की जा रही है। 

Find Us on Facebook

Trending News