गोनरचक गांव में घरेलू विवाद में पत्नी की हत्या कर शव को कुंए में फेंका, 5 वर्षीय पुत्री अंशु ने कहा - पप्पा और दादी ने कर दी मम्मी को मार दिया

गोनरचक गांव में घरेलू विवाद में पत्नी की हत्या कर शव को कुंए में फेंका,  5 वर्षीय पुत्री अंशु ने कहा - पप्पा और दादी ने कर दी मम्मी को मार दिया

पुलिस ने पति को किया गिरफ्तार, फिर पति की निशानदेही पर बरामद किया गया 

मृतिका के पिता के बयान पर सात लोगों को किया गया नामजद

 खगड़ा पंचायत वार्ड नंबर छः से वार्ड सदस्य पद पर महिला ने दी थी दावेदारी

NAUGACHHIYA : परवत्ता थाना क्षेत्र के गोनरचक गांव में घरेलू विवाद में एक महिला की हत्या कर शव को एक कुएं में फेंक देने का मामला प्रकाश में आया है. रविवार की सुबह दस बजे मृत महिला के पति की निशानदेही पर परवत्ता पुलिस ने महिला के शव को कुएं से बाहर निकला. मृत महिला गोनरचक निवासी सर्वेश मंडल की 30 वर्षीय पत्नी नीलम भारती है. शव बरामद होते ही पुलिस ने मृतिका के पति सर्वेश मंडल को गिरफ्तार कर लिया है. जबकि पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये नवगछिया अनुमंडल अस्पताल भेजा. जहां से महिला के शव को पोस्टमार्टम करने के लिये भागलपुर जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है. 

मालूम हो कि सर्वेश की निशानदेही पर जब पुलिस ने कुएं तक पहुंची तो छानबीन के बाद पता चला कि कुएं में एक जूट का भारी-भरकम बोरा है. बोरे को जब बाहर निकाला गया तो इसी बारे में नीलम की लाश थी. नीलम का पूरा बदन सूजा हुआ था, उसके शरीर पर कई जगहों पर फफोले निकले हुए थे. इसके अलावे बदन पर जगह जगह काले और लाल धब्बे भी थे. मुंह, ओठ में भी सूजन थी. बात सामने आ रही है कि नीलम की हत्या बार-बार बिजली का करंट लगाकर की गई है. जबकि पुलिस ने शव के पंचनामा में पिटाई के बाद नीलम के जख्मी हो जाने और फिर उसकी मौत हो जाने की आशंका व्यक्त की है. 

पति सहित सात लोगों पर मामला दर्ज

घटना की बाबत महिला के पिता कटिहार जिले के फलका थाना क्षेत्र के चांदपुर दियारा निवासी होमगार्ड के जवान अर्जुन मंडल ने मृतिका महिला के पति गोनरचक निवासी सर्वेश मंडल, सबौर बबूपुर निवासी एमपी यादव, चांदनी देवी, भांजा सिंटू यादव, भैसुर अखिलेश मंडल, सास इलायची देवी, सौत काजल देवी को नामजद किया गया है. नीलम भारती सर्वेश मंडल की पहली पत्नी थी. छठे चरण में होने वाले 3 नवंबर को पंचायत चुनाव में खगरा पंचायत के वार्ड नंबर 6 से नीलम भारती ने वार्ड सदस्य पद पर अपनी दावेदारी भी दी थी. हालांकि हत्या का चुनाव से कोई लेना देना नहीं है. मृतका के पिता अर्जुन मंडल ने बताया कि वार्ड सदस्य पद पर नीलम का नामांकन करवाने के बाद सर्वेश उनसे एक लाख रुपये की मांग कर रहा था. नहीं देने पर उसने अपने परिजनों के साथ मिल कर नीलम की हत्या कर दी.

पुलिस और परिजनों की सक्रियता से अपराधी अपनी मंशा में हुए विफल

नीलम की हत्या के बाद अपराधियों की मंशा थी कि पूरे मामले को दबा दिया जाए. मालूम हो कि सर्वेश मंडल जरायम धंधे की दुनिया का पुराना नाम है. विगत वर्षों में सर्वेश के विरुद्ध जाली नोटों के कारोबार और अन्य जरायम धंधे ने संलिप्त रहने का मामला उजागर हो चुका है. कई बार सर्वेश जेल की हवा भी खा चुका है. आसपास के लोगों ने जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार की सुबह सर्वेश के घर में घरेलू झगड़ा हुआ था. इधर मृतका के पिता अर्जुन मंडल का कहना है कि उसकी एक पुत्री की शादी परबत्ता थाना क्षेत्र के ही राघोपुर गांव में हुई है. राघोपुर में रहने वाली पुत्री ने ही उसे शनिवार को देर शाम मोबाइल से सूचना दी कि नीलम की हत्या कर दी गई है. सूचना मिलते ही अर्जुन मंडल गोनेर चक गांव के लिए रवाना हो गए. कुछ देर तक अर्जुन मंडल और उसके अन्य परिजन अपने स्तर से नीलम को ढूंढने का प्रयास किया.

गायब थे नीलम के दोनों बच्चे

 नीलम के दोनों बच्चे भी गायब थे. जब कुछ भी अता पता नहीं चल सका तो अर्जुन मंडल ने मामले की सूचना परबत्ता के थानाध्यक्ष रामचंद्र यादव को दी. थाना अध्यक्ष रामचंद्र यादव देर रात सक्रिय हो गए. पुलिस की माने तो सर्वेश मंडल ने पूरे मामले को दबाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी. लेकिन देर रात ही पुलिस ने सर्वेश को हिरासत में ले लिया. प्रथम चरण के पूछताछ में सर्वेश पुलिस को दिग्भ्रमित करता रहा. जब पुलिस ने सख्ती की फिर सर्वेश ने पूरी कहानी का बयान किया. पुलिस से जानकारी मिली है कि सर्वेश ने एक तरफ नीलम की हत्या कर उसके शव को एक बोरी में बंद कर कुएं में छुपा दिया तो दूसरी तरफ अपने दोनों बच्चों को एक संबंधी के यहां शनिवार को देर शाम ही मुंगेर भेज दिया था. तो दूसरी तरफ पुलिस हस्तक्षेप की बात पता चलते ही सर्वेश के सभी परिजन भी अपने घर से फरार हो गए थे.

मृतिका की 5 वर्षीय पुत्री अंशु ने कहा - पप्पा और दादी ने कर दी मम्मी की हत्या

मृतका की 5 वर्षीय पुत्री अंशु ने कहा कि उसे यह पता नहीं था कि मम्मी को मार दिया गया है. नाना ने बताया कि उसकी मम्मी को मार दिया गया है. अंशु कहती है किस शनिवार को दादी और मम्मी के बीच झगड़ा हुआ था. वह लड़का लड़खड़ाते हुए बोलती है कि पप्पा और दादी ने मम्मी को मार डाला. नीलम भारती को दो बच्चे 5 वर्षीय अंशु कुमारी और 3 वर्षीय अमन कुमार है. दोनों अबोध बच्चे डरे सहमे हैं और अब वे अपने नाना के साथ हैं. मृतका के पिता अर्जुन मंडल ने बताया कि नीलम भारती की शादी लगभग 13 वर्ष पहले उन्होंने सर्वेश के साथ की थी. शादी के बाद पता चला कि सर्वेश आपराधिक चरित्र का है. नीलम को बार-बार प्रताड़ित करता था. तीन - चार वर्ष पहले उसने दूसरी शादी भी कर ली जिसके बाद नीलम को और ज्यादा प्रताड़ित किया जाने लगा. मृतका के पिता को न्याय की उम्मीद है.

कहते हैं एसपी

नवगछिया के सुशांत कुमार सरोज ने कहा कि घटना के बाद ही पुलिस तुरंत हरकत में आई और शव को बरामद करने के साथ-साथ मुख्य आरोपी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. मामला घरेलू विवाद का है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है जो भी दोषी पाए जाएंगे उसे छोड़ा नहीं जाएगा.

Find Us on Facebook

Trending News