9 साल बाद किसी चुनावी मंच पर साथ दिखेंगे मोदी और नीतीश, 3 मार्च को पटना के गांधी मैदान पर टिकी रहेंगी सभी की नजरें

9 साल बाद किसी चुनावी मंच पर साथ दिखेंगे मोदी और नीतीश, 3 मार्च को पटना के गांधी मैदान पर टिकी रहेंगी सभी की नजरें

PATNA : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आगामी लोकसभा चुनाव से पहले 9 साल बाद किसी चुनावी रैली में एक साथ दिखेंगे। पीएम मोदी और सीएम नीतीश 3 मार्च को पटना के गांधी मैदान में एक चुनावी रैली को संबोधित करेंगे। ऐसे में लोकसभा चुनाव से ठीक पहले पटना में होने वाली एनडीए की  रैली में जब दोनों नेता एक सियासी मंच पर दिखेंगे तो सभी की नजरें टिकी रहेंगी। इस रैली में लोजपा सुप्रीमो और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान भी शामिल होंगे।

लोकसभा चुनाव के लिए बिहार में सीटों का समझौता होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के सीएम नीतीश कुमार एक साथ एक मंच से लोगों को संबोधित करेंगे और बिहार में मजबूत एनडीए का संदेश देने की कोशिश करेंगे।साथ ही नरेंद्र मोदी को एक बार फिर से पीएम बनाने की अपील भी लोगों से करेंगे। 

2010 में लुधियाना में चुनावी मंच पर थे साथ

मोदी और नीतीश इससे पहले 2010 में पंजाब के लुधियाना में एनडीए के लिए प्रचार करने के दौरान एक साथ चुनावी मंच पर दिखे थे। नीतीश कुमार 1998 से एनडीए का हिस्सा रहे और लगातार गठबंधन के लिए प्रचार-प्रसार करते रहे। हालांकि जून 2013 से लेकर जुलाई 2017 तक वह एनडीए का हिस्सा नहीं थे।

बात दें कि साल 2013 में करीब 17 सालों से जारी भाजपा के साथ गठबंधन से नीतीश कुमार इसलिए अलग हो गए थे क्योंकि बीजेपी ने नरेंद्र मोदी को लोकसभा चुनाव 2014 के लिए प्रधानमंत्री के पद का दावेदार बना दिया था। उसके बाद नीतीश कुमार ने लालू से हाथ मिला लिया था।

2015 विधान सभा चुनाव में एक दूसरे पर साधा था निशाना

गौरतलब है कि बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान नीतीश कुमार और नरेन्द्र मोदी ने एक-दूसरे पर जमकर निशाना साधा था। दोनों एक दूसरे पर काफी गंभीर आरोप भी लगाए थे। इन दोनों की जुबानी जंग काफी चर्चा में रहा था। लेकिन, विगत चार साल में एक बार फिर राजनीति परिदृश्य बदला और दोनों साथ आ गए। आपको बता दें कि महागठबंधन से अलग होने के बाद एनडीए ने जदयू का समर्थन किया था और नीतीश कुमार एक बार फिर बिहार के मुख्यमंत्री बने। अब देखना यह है कि इस लोकसभा चुनाव में नीतीश और मोदी की जोड़ी क्या रंग लाती है। ऐसे में  3 मार्च को गांधी मैदान में होने वाली एनडीए की रैली पर सबकी नजरें टिकी रहेंगी।


Find Us on Facebook

Trending News