पेट्रोल डीजल के बाद अब बिहार में बिजली की मार, बढ़े हुए बिल से लगेगा झटका

पेट्रोल डीजल के बाद अब बिहार में बिजली की मार, बढ़े हुए बिल से लगेगा झटका

DESK: राजधानी पटना में सरकार ने आम जनता को रुलाने की पूरी तैयारी कर ली है. देश में पहले से ही बढ़ी पेट्रोल- डीजल की कीमतों से एक ओर जहां जनता परेशान है, वहीं अब बिहार सरकार बिजली बिल के जरिए झटका देने की तैयारी में है. बिहारवासियों को अगले महीने से बिजली के लिए ज्यादा बिल चुकाना पड़ सकता है. साउथ और नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के प्रस्ताव को यदि बिहार राज्य विद्युत विनियामक आयोग मान लेता है तो उपभोक्ताओं पर एक और बोझ बढ़ने के संकेत मिल रहे हैं.
 
 बिजली विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक साउथ और नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने बिजली की दर में बढोतरी का प्रस्ताव सरकार को दिया है. यह बढ़ोतरी 9 से 10 प्रतिशत तक संभव है. प्रस्ताव को लेकर विद्युत विनियामक आयोग ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है.
 
 जानकारी के मुताबिक बिहार राज्य विद्युत विनियामक आयोग की जनसुनवाई में पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने यह मुद्दा उठाया था. इस मूल्यावृद्धि का उपभोक्ताओं समेत BIA ने भी इस बढ़ोतरी वाले प्रस्ताव का विरोध किया है. BIA ने कहा कि बिजली बिल बढ़ाने के जगह कम करने की जरूरत है.वहीं बिजली कंपनियों का कहना था कि बढ़ोतरी का प्रस्ताव उचित है. दोनों पक्षों को सुनने के बाद आयोग के अध्यक्ष शिशिर सिन्हा, सदस्य आरके चौधरी और एससी चौरसिया ने फैसला सुरक्षित रख लिया है. यदि फैसला बिजली कंपनियों के पक्ष में आता है तो 1 अप्रैल 2021 से बिजली की दरों में इजाफा देखने को मिलेगा. 



Find Us on Facebook

Trending News