लॉर्ड्स टेस्ट: टीम के परफॉरमेंस पर अजिंक्य रहाणे ने कहा 'टीम साथी के तौर पर यह अखरता है'

लॉर्ड्स टेस्ट: टीम के परफॉरमेंस पर अजिंक्य रहाणे ने कहा 'टीम साथी के तौर पर यह अखरता है'

भारतीय क्रिकेट टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों  के बारे अपना बयान दिया है. शुक्रवार को लॉर्ड्स मैदान में भारतीय टीम ने दूसरे टेस्ट में कुल 107 रन का स्कोर बना कर सिमट गई। टीम की बल्लेबाजी को लेकर रहाणे ने अपनी बात रखी और स्वीकार किया कि टीम के बल्लेबाजों ने चुनौतीपूर्ण हालत में गलतियां की है. 

रहाणे ने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि आपको टेस्ट में इससे ज्यादा चुनौतीपूर्ण परिस्थितियां मिल सकती हैं, खासतौर से ऐसे मौसम में लेकिन आपको एक बल्लेबाज के तौर पर खुद को और मजबूत करना होगा। यह केवल रन बनाने को लेकर नहीं, बल्कि गेंद को छोड़ने और अच्छे से डिफेंड करने को लेकर भी है। एक बल्लेबाज के लिए यहां खेलना काफी चुनौतीपूर्ण है.' उन्होंने कहा, 'ये जाहिर तौर पर काफी चुनौती भरी परिस्थितियां रहीं। एंडरसन ने छोटी गेंद नहीं फेंकी बल्कि एक ही स्पॉट (करीब 4-5 मीटर) पर गेंदबाजी की। यही इस तरह की विकेट पर अहम होता है। जब आपको इस लेंथ पर लगातार गेंदबाजी की जाए तो एक बल्लेबाज को गेंद छोड़नी होती है या लगातार इससे बचने के तरीके ढूंढने होते हैं। इस तरह की परिस्थितियों में आपके संयम पर सबकुछ निर्भर होता है।' 

रहाणे ने यह भी कहा कि आपको अपनी गलती स्वीकार करनी होगी. इंग्लैंड में यह विकेट के पीछे लपके जाने या रन आउट होने की बात नहीं है बल्कि आपको अपनी गलती स्वीकार करके आगे बढना होगा. हम जितना जल्दी अपनी गलतियों से सबक लेंगे, उतना ही अच्छा होगा. उन्होंने चेतेश्वर पुजारा के बारे जिक्र करते हुए कहा, 'टीम साथी के तौर पर यह अखरता है और मुझे भरोसा है कि पुजारा भी रन आउट होने से निराश होंगे। इसके बाद मौसम ने भी काफी निराश किया। हम 3-4 घंटे तक नहीं खेल पाए और टीम को ही यह काफी बुरा लगा।' बता दें कि पुजारा तीसरी बार कोहली के साथ गलत फहमी के चलते आउट हो गए. पहली पारी में कप्तान कोहली 23 और रहाणे 18 रन ही बना पाए. 


Find Us on Facebook

Trending News