तेजस के बाद अब 150 ट्रेनों और 50 स्टेशनों का होगा निजीकरण, केन्द्र सरकार ने शुरु की तैयारी

तेजस के बाद अब 150 ट्रेनों और 50 स्टेशनों का होगा निजीकरण, केन्द्र सरकार ने शुरु की तैयारी

NEWS4NATION DESK : तेजस के बाद अब केन्द्र सरकार 150 और ट्रेनों और 50 रेलवे स्टेशनों को प्राइवेट हाथों में सौंपने जा रही है। केंद्र सरकार ने इसकी प्रक्रिया तेज कर दी है. नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने रेलवे बोर्ड चेयरमैन विनोद कुमार यादव को इस बारे में एक लेटर लिखा है, जिसमें 150 ट्रेनों और 50 रेलवे स्टेशनों के निजीकरण करने का जिक्र है। 

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन के नाम लेटर में नीतिआयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने लिखा है 'जैसा कि आप पहले से जानते हैं कि रेल मंत्रालय ने पैसेंजर ट्रेनों के संचालन के लिए निजी ट्रेन ऑपरेटरों का लाने का फैसला किया है और पहले चरण में 150 ट्रेनों को इसके तहत लेने का विचार कर रहा है। नीति आयोग के इस लेटर में 400 रेलवे स्टेशनों को वर्ल्ड क्लास बनाए जाने के लक्ष्य का भी जिक्र है।

पत्र में नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने 6 एयरपोर्ट के निजीकरण के अनुभव का भी जिक्र किया है। उन्‍होंने कहै हा कि इसी तरीके का काम रेलवे के लिए भी किया जा सकता है। उन्‍होंने इसके लिए एक इंपावर्ड ग्रुप ऑफ सेक्रेट्रीज बनाने का सुझाव दिया है। 

Find Us on Facebook

Trending News