BIHAR NEWS : सड़क दुर्घटना में जख्मी शख्स की मौत के बाद ग्रामीणों ने किया जमकर बवाल, सड़क जाम कर की मुआवजे की मांग

BIHAR NEWS : सड़क दुर्घटना में जख्मी शख्स की मौत के बाद ग्रामीणों ने किया जमकर बवाल, सड़क जाम कर की मुआवजे की मांग

AURANGABAD : जिले में आज सड़क दुर्घटना घायल हुए एक व्यक्ति की मौत हो गयी। जिसके बाद ग्रामीणों ने शव को सड़क पर रखकर सड़क जाम कर दिया। लोगों ने प्रदर्शन कर मृतक के परिजनों को मुआवजा देने की मांग की। गौरतलब है कि कल नवीनगर थाना क्षेत्र के उत्तर कोयल नहर पर सिंचाई कॉलनी के समीप झारखंड के हुसैनाबाद थाना क्षेत्र के सबानो गांव निवासी सत्यनारायण मेहता सड़क दुर्घटना मे बुरी तरह से घायल हो गए थे। जिन्हें परिजनों के द्वारा इलाज के लिए रेफरल अस्पताल नवीनगर लाया गया था। जहां चिकित्सको  के द्वारा स्थिति को गम्भीर देखते हुए बेहतर इलाज हेतु सदर अस्पताल औरंगाबाद रेफर कर दिया। जहाँ से चिकित्सक के द्वारा बेहतर इलाज हेतु जमुहार रेफर कर दिया गया। जमुहार जाने के क्रम में ही रास्ते में उनकी मौत हो गई। 


इसके बाद परिजन आज शाम शव को लेकर नवीनगर थाना पहुंचे। जहां घटना को लेकर प्राथमिकी दर्ज करने तथा कार्रवाई की मांग करने लगे। लेकिन बदले में प्राथमिकी दर्ज करने की बजाय पहले शव की पोस्टमार्टम कराने को कहा गया। जिसके बाद परिजन शव को थाना गेट के सामने रखकर एंबुलेंस का इंतजार करते रहे। लेकिन पुलिस के द्वारा एंबुलेंस उपलब्ध नहीं करवाया गया। हालाँकि परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए नवीनगर - औरंगाबाद मुख्य पथ पर नवीनगर  बस स्टैंड के समीप शव को सड़क पर रखकर प्रदर्शन करते हुये मुआवजा की मांग करने लगे। जिससे तकरीबन 6 घंटा तक यातायात प्रभावित रहा। इस दौरान  प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी किया।

इधर घटना को लेकर इंस्पेक्टर वीरेंद्र प्रसाद यादव, नवीनगर थानाध्यक्ष विजयेन्द्र कुमार सिंह, नरारी कला खुर्द थानाध्यक्ष वीरेंद्र कुमार सिंह, एनटीपीसी खैरा थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह, बड़ेम ओपी थानाध्यक्ष धनंजय कुमार, माली थानाध्यक्ष पवन कुमार एवं टंडवा प्रभारी थानाध्यक्ष संतोष कुमार सिंह ने मोर्चा संभाला। वहीं सड़क जाम होने की सूचना पर सीओ आलोक कुमार पहुंचें तथा मृतक के परिजनों को समझा-बुझाकर शांत कराने का प्रयास किया। लेकिन परिजन  कार्रवाई की मांग पर अड़े रहे तथा वरीय पदाधिकारी को बुलाने की मांग करते रहे।  

इस दौरान मृतक के पुत्र उदय मेहता, अजय मेहता बेटी रिंकू देवी, भाई राजेश मेहता, भतीजा मिथिलेश मेहता,  ग्रामीण बैजन्ती देवी, प्रभा देवी, दूधेश्वर मेहता, अखिलेश मेहता, अमरेश मेहता एवं बेनी कला पूर्व मुखिया डब्लू सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि साईकिल से मृतक नवीनगर बाजार अमरूद बेचने जा रहे थे। तभी तेज रफ्तार बाइक चालक ने उनके साईकिल में टक्कर मार दिया। जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गए। इसके बाद उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। लेकिन बदले में पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की। वहीं उन्होंने आरोपित बाइक सवार से पैसे लेकर भगाने का पुलिस पर आरोप लगाया है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि कानूनी प्रक्रिया के मुताबिक शव का पोस्टमार्टम पुलिस द्वारा करवाया जाना चाहिए था। लेकिन पुलिस ने ऐसा नहीं किया। ऐसे में विवश होकर हम सभी को सड़क पर उतरना पड़ा। घटना के बाद मृतक के पुत्र अजय कुमार मेहता के द्वारा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराया गया है। थानाध्यक्ष विजयेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए औरंगाबाद भेज दिया गया है।  मामले में प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई किया जा रहा है। 

औरंगाबाद में दीनानाथ मौआर की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News