पटना में सरेआम मुखिया के मर्डर के बाद दिनभर भारी बवाल, नीरज को गोली मारकर भाग रहे अपराधियों का CCTV फुटेज आया सामने

पटना में सरेआम मुखिया के मर्डर के बाद दिनभर भारी बवाल, नीरज को गोली मारकर भाग रहे अपराधियों का CCTV फुटेज आया सामने

PATNA :  राजधानी पटना में मंगलवार को बेखौफ अपराधियों ने सरेआम नवनिर्वाचित मुखिया को उसके ही ऑफिस में घुसकर गोलियों से भून डाला। गोली मारने के बाद अपराधी पुलिस को ठेंगा दिखाते हुए मौक-ए-वारदात से पैदल ही फरार हो गए। वारदात के बाद इलाके के लोगों ने दिनभर जमकर बबाल मचाया। वारदात पटना के जानीपुर थाना क्षेत्र का है। जहां फरीदपुर बाजार में नवनिर्वाचित मुखिया नीरज कुमार मंगलवार की सुबह अपने ऑफिस के पास बैठे थे। तभी दो अपराधी पहुंचे और नीरज पर अंधाधूंध फायरिंग कर दी। नीरज कुमार को तीन गोलियां लगी और उसकी मौत हो गयी। नीरज कुमार लगातार दूसरी बार रामपुर फरीदपुर पंचायत से चुनाव 15 नवम्बर को जीतकर मुखिया का पद हासिल किया था। 

इस गोलीकांड को अंजाम देने के बाद भाग रहे अपराधियों का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। जिसमें दो लोग गोली मारने के बाद भाग रहे हैं। बताया जाता है कि नीरज कुमार फरीदपुर बाजार स्थित अपने ऑफिस में बैठे हुए थे। इसी दौरान अपराधी उनके पास पहुंचे और उनपर फायरिंग शुरु कर दिया। गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोग दौड़ते हुए ऑफिस पर पहुंचे तो अपराधियों को भागते देखा। लोगों ने उन्हें पकड़ने के लिए हल्ला किया तो वे हथियार लहराते हुए फरार हो गये। इस घटना में मुखिया नीरज कुमार गंभीर रूप से जख्मी हो गए। लोगों ने आनन फानन में इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया लेकिन उनकी जान नहीं बच सकी। अस्पताल के डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

 हत्या के विरोध में इलाके के लोग 6 घंटे तक बिहटा-खगोल रोड और 8 घंटे तक नौबतपुर-शिवाला रोड जाम कर आगजनी की। ग्रामीणों ने सड़क जाम कर पूरी तरह से यातायात ठप कर दी। जाम की वजह से आम लोगों को दिन भर काफी परेशानी हुई। पुलिस ग्रामीणों को समझा-बुझाकर जाम हटाने की कोशिश करने लगी। लेकिन ग्रामीण पुलिस की बात सुनने को तैयार नहीं थे। गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। ग्रामीणो ने इस दौरान पुलिस पर पत्थराव किया। साथ हीं कुछ पुलिस कर्मियों के साथ धक्का मुक्की भी की। इस दौरान पुलिस को वहां से भागना पड़ा। पुलिस वाले अपनी जान बचाने के लिए फरीदपुर बाजार स्थित बैंक में छुप गए। हालांकि इस घटना में किसी पुलिस के चोटिल होने की सूचना नहीं है। बाद में आसपास के कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई और हालात को काबू करने की कोशिश की लेकिन लोग अपराधी की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। 

बाद में सूचना पर देर शाम बिहार पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी गांव में पहुंचे और उनके आश्वासन पर लोग शांत हुए और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया और 6 बजे यातायात सामान्य हुआ। उन्होने परिजनों को सांत्वना देते हुए कहा कि इस दुख की घड़ी में हम सभी आपके साथ हैं। पुलिस नीरज कुमार के हत्यारे को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर जेल भेजेगी।

मालूम हो कि सातवें चरण में 15 नवंबर को रामपुर फरीदपुर पंचायत में मतदान हुआ था। 17 नवंबर को हुई मतगणना में उन्होंने मुखिया पद पर जीत दर्ज किया था। जीजा नीरज की जीत पर साला सतीश कुमार 17 नवंबर को फरीदपुर बाजार में बीच रोड पर डीजे बजाकर डांस कर रहा था। तभी अचानक तेज रफ्तार ट्रक ने उसे कुचल दिया था। इस हादसे में मौके पर ही उसकी मौत हो गयी थी।

Find Us on Facebook

Trending News