विपक्ष के हंगामे के बाद अपने बयान से पलटे केन्द्रीय मंत्री, कहा-मेरे कहने का गलत मतलब निकाला गया

विपक्ष के हंगामे के बाद अपने बयान से पलटे केन्द्रीय मंत्री, कहा-मेरे कहने का गलत मतलब निकाला गया

NEWS4NATION DESK : देश मे रोजगार की नहीं बल्कि योग्य लोगों की कमी है। वही खासकर उत्तर भारत के नौजवानों में योग्यता की बड़ी कमी है। अपने इस बयान से केन्द्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री गंगवार पलट गए है। 

विपक्ष के हंगामे और तीखी आलोचना के बाद केन्द्रीय मंत्री गंगवार अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा है कि ‘मेरे बयान का गलत मतलब निकाला गया। मैंने एक विशेष संदर्भ में यह बात कही थी। मैंने कहा था कि कुछ नौकरियों के लिए स्किल की कमी थी, इसलिए तो स्किल मिनिस्ट्री की शुरुआत की गई है ताकि बच्चों को नौकरियों के मुताबिक ट्रेनिंग मिल सके।

बता दें केंद्रीयश्रम मंत्री संतोष गंगवार ने शनिवार को कहा था, ‘देश में रोजगार की कमी नहीं है। हमारे उत्तर भारत में जो रिक्रूटमेंट करने आते हैं, इस बात का सवाल करते हैं कि जिस पद के लिए रख रहे हैं, उसकी योग्यता का व्यक्ति हमें कम मिलता है।' उनके इस बयान पर रविवार को विपक्ष ने उन्हें आड़े हाथों लिया।

कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट किया, मंत्री जी, पांच साल से ज्यादा वक्त से आपकी सरकार है। नौकरियां पैदा नहीं हुईं। जो थीं वो छिन रही हैं। आप उत्तर भारतीयों का अपमान करके बच निकलना चाहते हैं। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, सरकार उलझन में है। अर्थव्यवस्था बिगड़ी हुई है। जीएसटी से व्यापार चौपट हो गया और सरकार चाहती है कि युवा पकौड़े तलें।

वहीं बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट किया कि मंदी के बीच उत्तर भारतीयों की बेरोजगारी दूर करने की बजाय यह कहना कि रोजगार की कमी नहीं, बल्कि योग्यता की कमी है, अति शर्मनाक है। इसके लिए देश से माफी मांगनी चाहिए।


Find Us on Facebook

Trending News