त्यागी के बाद अब अशोक चौधरी ने बीजेपी को लेकर कह दी ये बड़ी बात, सियासी हलके में मचा हड़कंप

त्यागी के बाद अब अशोक चौधरी ने बीजेपी को लेकर कह दी ये बड़ी बात, सियासी हलके में मचा हड़कंप

PATNA : मोदी कैबिनेट में जेडीयू के शामिल होने से इनकार के बाद प्रदेश की सियासत गर्म है। जेडीयू नेताओं की ओर से इस मामले को लेकर लगातार बयान दिये जाने का दौर जारी है। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी के बाद अब पिछले दिनों कांग्रेस छोड़कर जेडीयू में शामिल हुए और नीतीश के खास करीबी माने जाने वाले अशोक चौधरी ने एक बड़ा बयान देकर हड़कंप मचा दिया है।  

जेडीयू के नेता और सीएम नीतीश के बेहद करीबी माने जाने वाले अशोक चौधरी ने कहा है कि बीजेपी की पॉलिसी के साथ जेडीयू एडजस्ट नहीं करती है। उन्होंने कहा है कि लोग कुछ देने के बाद साथ होते हैं, हम बिना कुछ लिए साथ हैं।सिर्फ मंत्री बनना ही जेडीयू का उद्देश्य नहीं है, बल्कि बिहार का विकास करना हमारी प्राथमिकता है।

बता दें इससे पहले जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने शनिवार को दावा किया कि पूरे चुनाव में आरजेडी केंद्र सरकार के खिलाफ कम थी, बल्कि राज्‍य सरकार के खिलाफ ज्यादा लड़ाई लड़ रही थी।

त्यागी के बाद अब अशोक चौधरी के इस बयान के बाद सियासी हलको में हड़कंप मचा हुआ है। चौधरी के इस बयान के अलग-अलग मायने निकाले जा रहे है। वहीं विपक्ष की ओर से जेडीयू के उपर डोरे भी डाले जाने लगे है। 

शुक्रवार को जहां कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सदानंद सिंह ने जेडीयू को महज एक मंत्री पद दिये जाने को बिहार का अपमान बताते हुए नीतीश कुमार द्वारा सरकार में शामिल नहीं होने के फैसले को सही करार देते हुए तारीफ की थी। वहीं आज जेडीयू नेता के इस बयान का आरजेडी ने समर्थन किया है। 

राजद के प्रवक्ता विजय प्रकाश ने कहा कि जेडीयू के शामिल नहीं होने से पूरे बिहार को अफसोस है। आरजेडी के साथ बिहार का विश्वास टूटा है। सबको लगा था कि इससे बिहार के विकास में तेजी आएगी, लेकिन अब इसका दुष्परिणाम सामने आएगा।
 
हालांकि सीएम नीतीश कुमार दिल्ली से लौटने के बाद संख्या के आधार पर भागीदारी नहीं मिलने से थोड़ी नाराजगी जाहिर जरुर की थी। लेकिन साथ ही उन्होंने कहा था कि वे एनडीए के साथ थे और रहेंगे। लेकिन अब मंत्री पद को लेकर कोई बात नहीं होगी। 

Find Us on Facebook

Trending News