शिक्षक अभ्यर्थियों के बाद अब इन विभागों के कर्मी पहुंच गए तेजस्वी यादव के आवास, करने लगे नौकरी देने की मांग, बोले - उन्होंने कहा था, अब निभाएं

शिक्षक अभ्यर्थियों के बाद अब इन विभागों के कर्मी पहुंच गए तेजस्वी यादव के आवास, करने लगे नौकरी देने की मांग, बोले - उन्होंने कहा था, अब निभाएं

PATNA : बिहार में सरकार बनाने के साथ ही तेजस्वी यादव से लोगों बिहार के बेरोजगार लोगों की उम्मीद बढ़ गई है। जिस तरह उन्होंने विपक्ष में रहते हुए सभी को सरकारी नौकरी देने का भरोसा दिया था, अब तेजस्वी यादव से लोग उसे पूरा करने की मांग करने लगे है। कुछ दिन पहले ही हजारों शिक्षक अभ्यर्थी पटना में प्रदर्शन कर चुके हैं, अब शनिवार की सुबह-सुबह एक बार फिर से नौकरी की मांग को लेकर सैकड़ों युवा तेजस्वी यादव के घर पहुंच गए हैं। जिनकी मांग है कि तेजस्वी ने कहा था, अब वह उसे पूरा करने के लिए कदम उठाएं।

शनिवार को तेजस्वी यादव के घर पहुंचनेवालों में पशुपालन विभाग के साथ स्वास्थ्य विभाग में कांट्रेक्ट पर काम कर चुकी महिला स्वास्थ्यकर्मी हैं। यहां पहुंचे पशुपालन विभाग के टीकाकर्मियों ने बताया कि पिछले 15 साल से विभाग में दैनिक वेतन पर काम कर रहे हैं। जिसमें पशुओं को टीका लगाने के साथ हर तरह का काम हम लोगों से लिया जाता है। लेकिन जब भी हमें नियमित करने की बात होती है तो विभाग के अधिकारी यह कहते हैं कि आप लोगों को स्थायी कर दिया जाएगा। लेकिन अब तक ऐसा नहीं हुआ। जो भुगतान होता है, वह भी देर से होता है। कभी कभी साल भर इंतजार करना पड़ता है। इन टीकाकर्मियों ने बताया पूरे प्रदेश में हम लोगों की संख्या 8400 है। विपक्ष के नेता के तौर पर तेजस्वी यादव ने हमलोगों को भरोसा दिया था कि वह सभी को स्थायी कर देंगे। 


स्वास्थ्य विभाग की महिला कर्मी भी पहुंची

नौकरी को लेकर तेजस्वी यादव के अपने स्वास्थ्य विभाग के महिला कर्मी भी वहां पहुंची थी। उनका कहना था पांच साल के वह लोग स्वास्थ्य विभाग में कांट्रेक्ट पर काम कर रही थी. लेकिन फिर हटा दिया गया। अब विभाग में स्थायी नियुक्ति की जा रही है। ऐसे में हमलोगों की मांग है कि आवेदन में कांट्रेक्ट अवधि में किए गए काम के अनुभव के लिए भी नंबर दिए जाएं। जिसमें हर साल के हिसाब से पांच नंबर मिले। 


Find Us on Facebook

Trending News