74 साल के इंतजार के बाद 3 हजार की आबादीवाले गांव के नसीब में आया सिर्फ चचरी पुल, इसी से गुजरती है विकास की डगर

74 साल के इंतजार के बाद 3 हजार की आबादीवाले गांव के नसीब में आया सिर्फ चचरी पुल, इसी से गुजरती है विकास की डगर

KATIHAR :  हर दिन जिंदगी को दांव में लगाकर जिंदगी का सफर पूरा करते हैं कटिहार के कोढ़ा विधानसभा क्षेत्र के फलका प्रखंड के बंकू टोला के लोग> आजादी के 74 साल बाद भी इस गांव में विकास के नाम पर एक अदद सड़क पुल तक नहीं बना है। हर चुनाव से पहले लगभग हर पार्टी के रहनुमा इस इलाके में विकास की दरिया बहाने के वादा तो करते हैं> मगर आजादी के 74 साल बाद भी देश के मूल निवासी बहुल इस गांव की सूरत नहीं बदल सकी है।

हर साल बाढ़ से घिर जाता है पूरा गांव 

दो से तीन हजार से भी अधिक आबादी वाले इस इलाके में वरंडी कोसी नदी में बाढ़ के दस्तक के साथ ही पानी बढ़ने से परेशानी और ज्यादा होने लगती है। पुल नहीं होने की स्थिति में गांव के लोगों ने अस्थायी चचरी पुल का निर्माण किया था, जिसकी सहायता से वह आवाजाही करते रहे हैं। फिलहाल किसी तरह हर दिन का काम पूरा करने के लिए चचरी पुल पर जिंदगी रेंग रही है।  लेकिन अब वह चचरी पुल भी समय के साथ कमजोर होने लगा है और कब पूरी तरह से टूट जाएगा, यह कोई भी नहीं बता सकता है। वहीं गांव में मानसून आने के बाद बाढ़ की संभावना भी बढ़ गई है।  ऐसे में अगर पुल टूट जाता है तो गांव वालों का संपर्क पूरी तरह से टूट जाएगा। 

विधायक ने कहा गांववालों की दूर होगी परेशानी

 बड़ी आबादी के इस संकट पर क्षेत्र के विधायक कहती  हैं कि अब यह मामला उन तक पहुंचा है। जल्द ही इस इलाके का परेशानी दूर किया जाएगा। विधायक ने कहा कि कोढ़ा विधान सभा क्षेत्र में लगातार विकास का काम जारी है और इस गांव के इस बड़ी आबादी के लिए भी वह जल्द ही उचित व्यवस्था करवाएंगे।


Find Us on Facebook

Trending News