AGNIPATH : अग्निपथ का विरोध करनेवाले छात्रों को मिला राजद का साथ, पार्टी ने कहा - वापस लेना ही होगा फैसला

AGNIPATH : अग्निपथ का विरोध करनेवाले छात्रों को मिला राजद का साथ, पार्टी ने कहा - वापस लेना ही होगा फैसला

PATNA : राजद दफ्तर में लेफ्ट पार्टियों के साथ चल रही है बैठक इस बैठक में AGNIPATH योजना के खिलाफ रणनीति बनाई जा रही है राजद का आरोप है कि छात्रों के साथ सरकार मजाक कर रही है सरकार याद रखें जब जब युवा जागा है तब तब दिल्ली की सत्ता तक पलट के रख दिया है। पार्टी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि जो प्रदर्शन हो रहा है, वह केंद्र सरकार की गलत नीतियों का नतीजा है। आप युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि तेजस्वी यादवन ने साफ कर दिया है कि वह इस योजना का विरोध करेंगे और केंद्र सरकार को अपना फैसला वापस लेना होगा।

पार्टी के वरिष्ठ प्रवक्ता ने कहा कि सेना में नौकरी करनेवाले ज्यादातर लोग गरीब परिवार से आते हैं, ग्रामीण तबके से आते हैं। उनके लिए सेना के लिए काम करना गर्व की बात होती है। ऐसे लोगों को सिर्फ चार अग्निवीर बनाने के नाम पर सिर्फ खिलवाड़ किया जा रहा है। वो कहते हैं कि चार साल की नौकरी के बाद उनके लिए दूसरे जगहों पर नौकरी के रास्ते खुल जाएंगे। लेकिन यह नौकरी कैसी होगी। वह किसी बड़े से मॉल के गेट पर खड़े नजर आएंगे या किसी उद्योगपति के घर की रखवाली करेंगे। यह भी नहीं हुआ तो आपने उन्हें बंदूक चलाने की ट्रेनिंग दी है. काम नहीं मिला तो वह क्या करेंगे, यह बताने की आवश्यकता नहीं है।

योद्धा बनने से पहले लौट जाएंगे घर

मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि चार साल की सेना की नौकरी में अधिकतर समय तो ट्रेनिंग और सेना के काम को समझने में गुजर जाएगा। चार साल के बाद जब वह योद्धा बनने के लायक होंगे तो उस समय ही उन्हें रिटायर कर दिया जाएगा और घर भेज दिया जाएगा। सिर्फ 21 साल की उम्र में रिटायरमेंट का लेवल लग जाएगा
पार्टी छात्रों के साथ

राजद प्रवक्ता ने साफ किया कि वह अग्निपथ योजना को लेकर छात्रों के साथ खड़ी है। हालांकि जिस तरह का हिसंक प्रदर्शन आज किया जा रहा है। उससे पार्टी ने किनारा कर लिया। मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि विरोध का अपना तरीका  होता है। इसमें इस प्रकार के हिंसा की जगह नहीं है। पार्टी इसका विरोध करती है। इस दौरान उन्होंने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के उन आरोपों को भी गलत बताया, जिसमें उन्होंने ट्रेनों में आगजनी करने में राजद नेताओं का शामिल होना बताया था।


Find Us on Facebook

Trending News