अमित शाह के दौरे के पहले धमाकों से दहला जम्मू-कश्मीर, दो बसों में हुआ जोरदार ब्लास्ट

अमित शाह के दौरे के पहले धमाकों से दहला जम्मू-कश्मीर, दो बसों में हुआ जोरदार ब्लास्ट

DESK. गृह मंत्री अमित शाह के जम्मू-कश्मीर दौरे के पहले घाटी में धमाके हुए हैं। जम्मू-कश्मीर में 8 घंटे के अंदर हुए दो बम ब्लास्ट ने दहशत पैदा कर दी है। ताजा मामला गुरुवार सुबह करीब 6 बजे का है। इससे पहले बुधवार शाम को भी धमाका हुआ था। दोनों ब्लास्ट बसों में हुए। हालांकि उस समय बसें खड़ी हुई थीं, इसलिए कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ है। गुरुवार सुबह हुए ब्लास्ट में 2 लोग घायल हुए हैं। पुलिस आतंकी एंगल के नजरिये से भी इनकी जांच कर रही है। ब्लास्ट से बस के आसपास खड़े अन्य वाहनों को भी नुकसान पहुंचा है। बता दें कि केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह 4 अक्टूबर को जम्मू कश्मीर के दौरे पर आ रहे हैं। पहले उनका यह दौरा 30 अक्टूबर को होना था, हालांकि बाद में टल गया था।

गुरुवार सुबह 6 बजे उसी इलाके में यह दूसरा ब्लास्ट हुआ, जहां बुधवार शाम को हुआ था। दोनों का पैटर्न एक जैसा है। बुधवार शाम उधमपुर के एक पेट्रोल पंप पर खड़ी बस में बम ब्लास्ट हुआ था। हालांकि, इससे कोई नुकसान नहीं हुआ था। जबकि गुरुवार को हुए ब्लास्ट में दो लोग घायल हो गए। ब्लास्ट के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं। इलाके को सील कर दिया गया है। कड़ी सर्चिंग की जा रही है। जम्मू के एडीजी ने बताया-पहला धमाका बीती रात करीब साढ़े दस बजे एक पेट्रोल पंप के पास खड़ी एक बस में हुआ। इसी तरह एक और धमाका उधमपुर बस स्टैंड पर एक बस में हुआ। 

दूसरे ब्लास्ट में कोई हताहत नहीं पहले विस्फोट में दो घायल हो गए और खतरे से बाहर हैं। बता दें कि बुधवार देर रात उधमपुर जिले के दुमेल चौक के पास पेट्रोल पंप पर खड़ी एक बस में ब्लास्ट हुआ था। पेट्रोल पंप के ठीक सामने भारतीय सेना चेकिंग पॉइंट है। धमाके की आवाज इतनी तेज थी कि आसपास के घरों की छतों को नुकसान पहुंचा है। पेट्रोल पंप पर खड़े कुछ अन्य वाहनों को भी नुकसान हुआ।

ADGP विजय कुमार के मुताबिक, कुलगाम में एक साल में 10 पाकिस्तानी समेत 50 आतंकवादी मार गिराए गए। सितंबर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच 5 एनकाउंटर हुए हैं, इनमें 10 आतंकी मारे गए। मंगलवार की शाम को सुरक्षाबलों ने जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकियों को मार गिराया था। इस एनकाउंटर के दौरान आर्मी के जवान ने आतंकी को कॉल करके सरेंडर करने को कहा था, लेकिन वो नहीं माना। इसका वीडियो वायरल है। इस आतंकी की पहचान कुलगाम निवासी मोहम्मद आसिफ के रूप में हुई है। मारे गए तीन आतंकियों में एक विदेशी है। इनके पास से दो AK-47, एक पिस्तौल, एक ग्रेनेड समेत कई हथियार बरामद किए गए। ADGP विजय कुमार ने बताया कि ये आतंकी कश्मीर में कई वारदातों में शामिल थे।


Find Us on Facebook

Trending News