AIIMS डॉक्टरों की हड़ताल आगे भी जारी, फेडरेशन ऑफ रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन ने लिया निर्णय

AIIMS डॉक्टरों की हड़ताल आगे भी जारी, फेडरेशन ऑफ रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन ने लिया निर्णय

NEWS4NATION DESK : राष्ट्रीयआयुर्विज्ञान आयोग (एनएमसी) विधेयक के विरोध में गुरुवार से शुरु हुआ डॉक्टरों की हड़ताल आज भी जारी रहेगी। इस दौरान ओपीडी सहित आपातकालीन सेवांए भी बंद रहेंगी। रेजीडेंट डॉक्टर काम नहीं करेंगे। 

फेडरेशन ऑफ रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन का कहना है कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने डॉक्टरों का दर्द नहीं समझा है।

बता दें कि राष्ट्रीयआयुर्विज्ञान आयोग (एनएमसी) विधेयक के विरोध में गुरुवार को चिकित्सकों की हड़ताल से दिल्ली और पटना में हजारों मरीज हलकान रहे। इस दौरान करीब 80 हजार मरीज इलाज के लिए भटकते रहे। सरकारी अस्पतालों में तीन हजार सर्जरी भी रद्द हो गईं।

राष्ट्रीय राजधानी के एम्स, सफदरजंग, राम मनोहर लोहिया, लोकनायक, जीबी पंत, लेडी हार्डिंग, जीटीबी, हिंदूराव जैसे बड़े अस्पतालों में सर्वाधिक असर रहा। यहां ओपीडी से लेकर वार्ड सेवाएं और इमरजेंसी प्रभावित रहीं। 

एम्स और सफदरजंग के डॉक्टरों ने अस्पताल से संसद तक मार्च किया। इस दौरान दोनों अस्पतालों के बीच से जाने वाला रास्ता बंद रहा। कुछ डॉक्टरों ने संसद भवन के सामने प्रदर्शन किया। एम्स में गुरुवार को करीब 700 छोटी-बड़ी सर्जरी होनी थीं लेकिन हड़ताल के कारण रद्द हो गईं। सफदरजंग में 300, लोकनायक में 110, जीबी पंत में 80, जीटीबी अस्पताल में 50 सर्जरी नहीं हो पाईं।

वहीं पटना के फुलवारी स्थित एम्स में भी चिकित्सा व्यवस्था पूरी तरह से ठप है। डॉक्टरों हड़ताल पर है और उनके द्वारा संस्थान के मुख्य गेट पर प्रदर्शन और केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के खिलाफ नारेबाजी की जा रही है।  


Find Us on Facebook

Trending News