महामारी को रोकने के लिए पटना एम्स के डॉक्टरों ने संभाला मोर्चा, 50 सदस्यों की टीम कर रही ये काम

महामारी को रोकने के लिए पटना एम्स के डॉक्टरों ने संभाला मोर्चा, 50 सदस्यों की टीम कर रही ये काम

पटना : बिहार में बाढ़ की स्थिति फिलहाल काबू में है. लेकिन अब महामारी की आशंका तेज हो गई है. बात करें पटना की तो, यहां लगातार डेंगू के मरीजों में इजाफा हो रहा है. इसको लेकर सरकार की तरफ से फॉगिंग, ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव लगातार किया जा रहा है. तो बाढ़ प्रभावित इलाकों में मेडिकल कैंप भी लगाया जा रहा है. इसी कड़ी में केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे के निर्देश के बाद पटना एम्स के 50 सदस्यीय डॉक्टरों की टीम ने 11 अलग-अलग जगहों पर मेडिकल कैंप लगाया है. जिसमें पटना एम्स के डॉक्टरों ने स्लम बस्तियों में रह रहे मरीज का मुफ्त में इलाज किया. साथ ही मुफ्त में दवाईयां भी दी. ये मेडिकल कैंप अगले 5 दिन तक चलेगी. 

वहीं इलाज कर रहे पटना एम्स के डॉक्टर ने बताया कि पटना में पाटलिपुत्रा गोलंबर, राजेंद्र नगर, राजीव नगर रोड-14, पटेल नगर, करबिगहिया, मीठापुर, जक्कनपूरा, दिनकर गोलंबर, मुन्ना चक, बाजार समिति, दृष्टि अस्पताल में मेडिकल कैंप लगाया गया है. इस मेडिकल कैंप में सभी का मुफ्त में इलाज के साथ-साथ मुफ्त में दवाईयां दी जा रही है. 

बता दें कि बीते दिनों जब पटना में जोरदार बारिश हुई थी. तो पटना के राजेंद्र नगर, कंकड़बाग के साथ-साथ कई इलाकों में भारी जल जमाव हो गया था. फिलहाल जल जमाव तो खत्म हो गया है. लेकिन महामारी की आशंका को देखते हुए पटना में एम्स की तरफ से कुल 11 अलग-अलग जगहों मेडिकल कैंप लगाया गया है.

Find Us on Facebook

Trending News