जेल में बंद कुख्यात नक्सली अजय कानू का सरकार को अल्टीमेटम, जल्द केसों का नहीं हुआ निपटारा तो करुंगा आमरण अनशन

जेल में बंद कुख्यात नक्सली अजय कानू का सरकार को अल्टीमेटम, जल्द केसों का नहीं हुआ निपटारा तो करुंगा आमरण अनशन

PATNA : जेल में बंद कुख्यात नक्सली अजय कानू ने अपने केसों के निपटारे में हो रही देर को लेकर आमरण अनशन करने के ऐलान किया है। इस मामले को लेकर उसने पटना हाईकोर्ट के जज के नाम पत्र लिखा है। 

पत्र में कहा गया है कि वर्ष 2007 से ही मैं पटना के आदर्श कारा बेउर में संसीमित बंदी के रुप में रखा गया हूं। मेरे खिलाफ केसों के निपटारे के लिए वर्ष 2013 में राज्य सरकार द्वारा विशेष अदालत का गठन किया गया। केसों के निष्पादन के दौरान पिछले तीन महीनें से सरकारी वकील तय तारीख पर अदालत में उपस्थित नहीं हो रहे है। जिसकी वजह से मेरे वादों का निष्पादन नहीं हो पा रहा है।

कानू ने कहा है कि राज्य सरकार की ओर से इसकी कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की जा रही है। मैं पिछले 12 वर्षों से बेउर जेल में संसीमित बंदी हूं। फिर भी मेरे केसों पर कोई सुनवाई नहीं हो रही है। 

उसने अपने केसों के निष्पादन के लिए वैकल्पिक व्यवस्था राज्य सरकार द्वारा 7 फरवरी तक किये जाने की बात करते हुए कहा है कि यदि ऐसा नहीं होता है तो वह 8 फरवरी से जेल के अंदर आमरण अनशन करेगा। 

कुंदन की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News