बिहार में 26 नवंबर को होगा 'मद्य निषेध शपथ' कार्यक्रम, ओथ लेने के बाद भी शराब सेवन-धंधा में लिप्त हुए तो जाएगी नौकरी

बिहार में 26 नवंबर को होगा 'मद्य निषेध शपथ' कार्यक्रम, ओथ लेने के बाद भी शराब सेवन-धंधा में लिप्त हुए तो जाएगी नौकरी

पटना. बिहार नशा मुक्ति दिवस पर 26 नवंबर को प्रदेश भर में 'मद्य निषेध शपथ' कार्यक्रम होगा. इसमें बिहार सरकार के सभी अधिकारी और कर्मचारी मद्य निषेध का शपथ लेंगे. इसको लेकर बिहार सरकार ने शपथ पत्र भी जारी किया है. साथ ही संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी किये गये हैं. वहीं शपथ लेने के बाद भी शराब सेवन-धंधा में लिप्त पाये गये तो उसकी नौकरी जाएगी. 

2016 से हो रहा है शपथ कार्यक्रम

बिहार के मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण ने बताया कि मद्य निषेध के प्रति चेतना जागृत करने के लिए वर्ष 2016 में राज्य सरकार के सभी कर्मियों को आजीवन शराब का सेवन नहीं करने और दूसरे को भी शराब नहीं सेवन करने के लिए प्रेरित करने के लिए शपथ दिलायी गयी थी. इसी के तहत मद्य निषेध समीक्ष बैठक के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश ने कहा था कि इस साल भी नशा मुक्ति दिवस पर सरकारी कर्मियों को शपथ दिलायी जाये.

सुबह 11 बजे होगा कार्यक्रम

मुख्यमंत्री के आदेशानुसार इस साल भी 26 नवंबर को मद्य निषेध शपथ कार्यक्रम होगा और इसमें सरकारी कर्मचारियों को शराब नहीं पीने और नहीं पीने देने का शपथ दिलायी जाएगी. यह कार्यक्रम 26 नवंबर को सुबह 11 बजे कार्यालय परिसर में होगा, जिसमें सरकारी कर्मियों को शपथ दिलायी जाएगी.


Find Us on Facebook

Trending News