टिकट कटने पर छलका फातमी का दर्द, कहा- मैं सबसे सीनियर अल्पसंख्यक नेता, आरजेडी को होगा नुकसान

PATNA : टिकट कटने की खबर से आरजेडी के वरिष्ठ नेता अली अशरफ फातमी का दर्द छलका है। बुधवार की शाम फातमी ने तेजस्वी यादव से मुलाकात कर अपना दर्द बया किया। फातमी ने कहा कि मुझे इग्नोर किया जाता है तो इसका आरजेडी और अल्पसंख्यक समाज पर बुरा असर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि दरभंगा या मधुबनी से मुझे टिकट मिलना चाहिए। मेरा टिकट कटने से दरभंगा और मधुबनी के लोगों में नाराजगी है।

मेरा भविष्य दांव पर

अली अशरफ फातमी ने कहा कि वे बिहार के सबसे सीनियर अल्पसंख्यक नेता हैं। सात बार वे लोकसभा का चुनाव लड़ चुके हैं। चार बार वे सांसद रह चुके हैं। फातमी ने कहा कि मुझे जानकारी मिली है कि लिस्ट में मेरा नाम नहीं है। मेरा टिकट कटने से पार्टी को नुकसान होगा। फातमी ने कहा कि वे पिछले कई महीनों से मधुबनी से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वे क्षेत्र की जनता से बात करने के बाद अगली रणनीति की घोषणा करेंगे।

फातमी ने कहा कि तेजस्वी मेरे बेटे जैसे हैं। वो भविष्य हैं लेकिन यहां तो मेरा ही भविष्य दांव पर है। बता दें कि मधुबनी सीट वीआईपी पार्टी को कोटे में गई है।

Find Us on Facebook

Trending News