गजब! 'पतोहू' का नामांकन और माला पहने JDU एमएलसी का जुलूस, नारा लगा...बगहा का चेयरमैन कैसा हो- 'भीषम सहनी' जैसा हो

गजब! 'पतोहू' का नामांकन और माला पहने JDU एमएलसी का जुलूस, नारा लगा...बगहा का चेयरमैन कैसा हो- 'भीषम सहनी' जैसा हो

 PATNA: बिहार में नगर निकाय चुनाव का बिगुल बज गया है। दो चरणों में होने वाले चुनाव के लिए नामांकन का काम जारी है। नीतीश सरकार ने महिलाओं और अन्य पिछड़े वर्गों के सशक्तिकरण को लेकर आरक्षण की व्यवस्था की है। ताकि लोकतंत्र में महिलाओं और समाज के निचले पायदान  की भागीदारी हो सके। आज एक तस्वीर दिखी जहां जेडीयू के विधान पार्षद अपनी 'पतोहू' की जगह खुद माला पहन कर और जुलूस लेकर एसडीओ कार्यालय पहुंच गये। उनके समर्थक नारा लगा रहे थे बगहा का चेयरमैन कैसा हो....भीषम सहनी जैसा हो। आप समझ सकते हैं कि नीतीश सरकार का सपना कितना साकार हुआ। उनके दल के विधायक-विधान पार्षद ही किस तरह से महिला सशक्तिकरण में बाधक बने हैं. 

प्रत्याशी पतोहू और नारा लगा रहा जेडीयू एमएलसी ससुर का

बगहा का चेयरमैन कैसा हो....भीषण सहनी जैसा हो। भीषण सहनी जिंदाबाद का नारा लगवाते हुए सैकड़ों लोगों के हुजूम के साथ भीषम सहनी बगहा के एसडीओ कार्यालय पहुंचे। आखिर ये भीषम सहनी हैं कौन? आप बतायें कि भीषम सहनी नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के विधान पार्षद हैं। ये बगहा के रहने वाले हैं. अब नगर निकाय का चुनाव हो रहा,लिहाजा ये पीछे कैसे रहेंगे..।नगर सरकार पर कब्जा जो करना है....। लिहाजा अपनी पतोहू को मैदान में उतार दिया और बगहा नगरपरिषद क्षेत्र से चेयनमैन पद के लिए नामांकन करा दिया. पतोहू को सिर्फ कागज पर रहेगी,असली मालिक तो भीषण सहनी ही होंगे। आज की जो तस्वीर दिखी,उससे इस बात की पुष्टि भी हो गई। 

माला पहनकर सैकड़ों लोगों के जुलूस के साथ पहुंचे सत्ताधारी एमएलसी 

वीडियो में दिख रहा है कि भीषम सिंह गले में माला की हार पहने,पूरे लाव-लश्कर के साथ अपने आवास से निकलते हैं. उनके साथ उनका सरकारी बॉडीगार्ड और सैकड़ों समर्थक। बहू को चुनाव मैदान में उतार कर जदयू के विधान पार्षद भीष्म सहनी मैदान में उतर पड़े। सैकड़ों समर्थकों के साथ न सिर्फ जुलूस निकाला बल्कि नामांकन के लिए जुलूस के साथ अनुमंडल कार्यालय भी पहुंचे । उनके जुलूस में उनकी पतोहू जो बगहा नगरपरिषद के चेयरमैन प्रत्याशी हैं वो कहीं नहीं दिखी। यानि पतोहू को पहले भिजवा दिया,पीछे से जुलूस की शक्ल में अनुमंडल कार्यालय पहुंचे। नगर निकाय चुनाव में भी आचार संहिता लगी हुई है। बिना परमिशन जुलूस निकालने पर प्रतिबंध है। इसकी परवाह किये बिना जेडीयू के विधान पार्षद भीषम सहनी सैकड़ों लोगों के साथ नामांकन में पहुंच गये। इस तरह से नामांकन के दौरान शक्ति प्रदर्शन चलता रहा।

Find Us on Facebook

Trending News